Breaking News

सिविल सर्जन के छापामारी से निजी क्लिनिक संचालको में हरकंप

मधुबनी,अंधराठाढ़ी (रमेश कर्ण) : सिविल सर्जन के छापामारी से निजी क्लिनिक संचालको में हरकंप, कई चिकित्सक क्लिनिक बंद कर फरार, डॉ एच एल यादव के खिलाफ विधि सम्मत करवाई का निर्देश   सिविल सर्जन द्वारा एक निजी क्लिनिक के छापामारी के वाद से निजी क्लिनिक चलाने बालो में हरकंप मचा हुआ है .कई चिकित्सक क्लिनिक बंद कर फरार बताये जा रहे है . मालूम हो की शनिवार को सिविल सर्जन डॉ अमर नाथ झा ने स्थानीय  बाजार के डॉ हीरा लाल यादव के क्लिनिक पर छापामारी किया . जिसमे न केवल मानक क्षमता की भारी कमी पाए बल्कि उपयुक्त चिकित्सको की भी कमी पाए गये . छापामारी के बाद से डॉ हीरा लाल यादव की अजब अजब कहानी निकल कर सामने आ रहा है .उन्हें आयुष चिकित्सक का प्रमाण पत्र है . जवकि वे जेनरल फिजिशियन , सर्जन , स्त्री रोग   विशेषग्य का बोर्ड लगाये हुए है . अंधराठाढ़ी रेफरल अस्पताल से महज 100 गजो की दुरी पर क्लिनिक अवस्थित है . छापामारी के दौडान उनके क्लिनिक में गर्भाशय ओपरेशन करायी तीन महिलाये और ओपरेशन कर प्रसव करायी दो महिलाये भर्ती पाई गयी . 6 कमरों बाली उनके क्लिनिक में भारी कमी पाई गयी . तंग कोठरी , ओटी में उपकरण पाया और न एस्टरलाइजेसन फायर सेफ्टी या वयोवेस्ट ही पाया गया . क्लिनिक में कोई सर्जन चिकित्सक और न पारा मेडिकल स्टाफ .

कौन है डॉ एच एल यादव – मूल रूप से हीरालाल यादव खुटौना थाना के बाराधात गाँव के रहने बाले है . साल 1990-91 में डॉ जगदीश झा के यहाँ कंपाउंडरी करते थे. उसके वाद वे दरभंगा में लगातार कई वर्षो तक किसी सर्जन के यहाँ रहकर लगातार कंपाउंडरी करने लगे .वे अपने ससुराल रुद्रपुर गाँव में ही घर बना कर रहने लगे . फ़िलहाल अंधराठाढ़ी में कई वर्षो से निजी क्लिनिक चलाते है . यह भी चर्चा  है की अंधराठाढ़ी के एक रसूखदार लोगो के यहाँ अपने बेटा के शादी के वाद काफी वर्चस्व में आ गये .

डिग्री नही अनुभव के आधार पर चलाते है क्लिनिक – सायद ही कोई एसा दिन हो  जो इनके क्लिनिक में ओपरेशन बाला मरीज नही पहुचता हो . क्लिनिक चलाने का पुराना अनुभव प्राप्त है . इलाके के आशा ,ग्रामीण चिकित्सको के यहाँ से पेशेंट को रेफर हो कर यहाँ आता है . इसके लिए उन्हें कमिशन निर्धारित है .

क्लिनिक का अब तक पंजीकृत नही – एस सम्बन्ध में सिविल सर्जन डॉ अमर नाथ झा ने बताया की हेल्थ केयर होस्पिटल क्लिनिक एक्ट के तहत डॉ हीरा लाल यादव का क्लिनिक निबंधित नही है . वैसे संचालक डॉ हीरा लाल यादव द्वारा प्रस्तुत प्रमाण पत्रों की जाँचो प्रांत विधि सम्मत करवाई की जाएगी . अंधराठाढ़ी निवासी  सुरेश कुमार राम ने एच एल हेल्थ केयर प्राइवेट के खिलाफ लोक शिकायत निवारण में परिवाद दायर किया था .परिवाद के आलोक में जाँच की गयी .

अंधराठाढ़ी में  निजी क्लिनिक तिजारत का रूप ले लिया है .

अंधराठाढ़ी. स्वास्थ्य विभाग के उदासीनता के कारण अंधरा ठाढ़ी में निजी चिकित्सा तिजारत का रूप ले लिया है .प्रखंड मुख्यालय में दर्जनों निजी क्लिनिको एवं दवाई की दुकाने है . इसमे से कितने वैध है और कितने अबैध यह जाँच का विषय है .

प्रखंड मुख्यालय में डॉ के एन कामत , डॉ बैजू राय , डॉ अपर्णा स्नेही राय , डॉ संतोष कुमार , डॉ आदित्य कुमार , शांति क्लिनिक डॉ बी बाला , दुर्गा क्लिनिक डॉ अपराजिता झा डॉ ए के झा , डॉ के के महतो , डॉ जय प्रकाश , डॉ प्रमोद कुमार, डॉ शुखविंद झा , डॉ ए के विश्वास एवं बन्दना हेल्थ केयर यहाँ चल रहा है . तकरीबन 40 से अधिक दवा दुकाने है . किसान ड्रग्स , दास मेडिकल , सचिन ड्रग्स जगदम्बा मेडिकल ,गुप्ता मेडिकल आदि दवा  के थोक विक्रेता है. अभिषेक मेडिकल स्टोर , प्रकाश मेडिकल हौल , अपना दवा खाना , बिनोद मेडिकल हॉल , राम मेडिकल, दिलीप मेडिकल ,हिना मेडिकल हॉल , सौरव मेडिकल हॉल , लक्की मेडिकल, रमेश मेडिकल , शिव मेडिकल स्टोर , चंद्सी मेडिकल , अभिनव मेडिकल , संजय मेडिकल, पिंटू मेडिकल, शहीद मेडिकल, ॐ प्रकाश मेडिकल की डॉ दुकाने ,एकता मेडिकल , चांदनी दावा खाना , डॉ जग दिश झा के क्लिनिक में दो  दवा दुकाने , इसके अलावे दर्जनों दवा दुकान बिना बोर्ड के चल रहे है .

मालूम हो की एस प्रखंड में  रेफरल अस्पताल , प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के अलावे चार अतिरिक्त प्र स्वा केंद्र और डॉ दर्जन से अधिक उप स्वास्थ्य केंद्र है .इसके अलावे भारी संख्या में निजी क्लिनिके है . सूत्रों का कहना है अधिकांश दुकाने लाइसेंस के शर्तो को पूरा नही करती है. शायद यहीं कारण है की सिविल सर्जन , ड्रग्स इंस्पेक्टर आदि के दौड़ा के दिन उनके रहने तक अधिकांश दुकाने बंद रहती है . कहते है सिविल सर्जन डॉ ए के झा दवा दुकान की जाँच वास्ते टीम गठित है जवकि निजी क्लीनिको के सम्बन्ध में दूसरा कोई अभ्यावेदन नही है . जाँच में निजी क्लिनिक और दवा दुकाने अपनी मानक पूरा नही करता है तो उसके विरुद्ध समुचित करवाई की जाएगी .

Check Also

फरीदिया हॉस्पिटल में डॉ अब्दुल हलीम डायलिसिस सेंटर का भव्य शुभारंभ, सम्मानित किए गए कोरोना Warriors

दरभंगा : सलफ़िआ यूनानी मेडिकल कॉलेज के अंतर्गत फ़रीदिया अस्पताल में गुरुवार को डॉ. सैयद …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *