बिहार :: बैक के कैमरे नें पकरा शातिर चोर ।

0

दरभंगा : भरतीय स्टेट बैक के दरभंगा शाखा में लगे कैमरे नें पकरा चोर। जी हॉ आप सही समझ रहें हैं एक कैमरे की मदद से चोर पकडा गया। घटना बिहार के दरभंगा जिले की है

जहां राघव आचार्य नें जब बैंक से 19,500 रुपये निकाले और अपने बैग में रक्खा और एक सौ के एक खराब नोट को बदलने के चक्कर में थोड़ी देर कैश काउंटर पर रुक रहा, तभी चुपके से उसके पीछे खड़े होकर एक चोर नें राघव की बैग से एक दस हज़ार का बंडल उड़ा रफ्फू चक्कर हो गया। पुरी वरदात बैंक कें कैमरे में कैद हो गई, इधर राघव जब सौ के नोट बदलने के बाद आगे बढ़ा तो तस्सली के लिए अपने बैग में रखे रुपये को जैसे ही एक बार फिर चेक किया तो

 

उसके होश होड़ गये। जब बैग में रखा दस हज़ार का एक गड्डी बैग में नहीं था। राघव ने तुरंत इसकी शिकायत ब्रांच मैनेजर से की और बैंककर्मी द्वारा

बैंक में लगे कैमके को खंगालने के बाद पूरी वारदात सामने आगयी। राघव ने इसकी शिकायत नगर थाने की पुलिस को की

                                                                                                                                                        शातिर चोर 

और दरभंगा पुलिस भी बैंक पहुंच कर कैमरे में पाया की एक सक्स

 

हाथो में कुछ लिए बैंक के अंदर आता है और राघव के पीछे खड़ा हो

जाता है फीर बड़ी सावधानी से उसके बैग से पैसा निकाल कर चला जाता है। निसांदेही पर पुलिस बैंक में अपना जाल बिछा कर बैठ जाती है, इन सब से अंजान चोर जैसे ही एक बार फिर अपने चोरी करने की मनसा से बैंक पहुँचा तो पुलिस उसे धर दबोचा, पुलिस की गिरफ्त में आये चोर की पहचान विकास तिवारी, मुजफ्फरपुर निवासी बताया गया है और पिछले कई वर्षो से यह चोरी करता आ रहा है साथ हीं कई बार जेल भी जा चूका है। इधर दरभंगा के प्रभारी एसएसपी दिलनवाज़ अहमद नें हमारे संवाददाता को बताया की यह एक गैंग है जो पिछले कई

वर्षो से चलता आ रहा है इसके कई सदस्य है।

जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी भी कर रही है और इसके आपराधिक इतिहास को भी खंगाला जा रहा।

 

पीड़ित बच्चा

राघव आचार्य