हवा में लटकती मूविंग बिल्डिंग व मॉल, कई देशों का करेगी सफर

7

उ०स०डेस्क : चाहे दुनिया की सबसे ऊंची इमारत दुबई की बुर्ज खलीफा हो या फिर दिल्ली का कुतुब मीनार। सभी की नींव जमीन के अंदर धंसी है। लेकिन न्यूयॉर्क की एक कंपनी ने ऐसी इमारत का प्रारूप तैयार किया है जिसकी नींव धरती पर नहीं बल्कि आकाश में होगी। दरअसल, यह इमारत धूमकेतु से लटकी होगी।

ऐनलेमा टावर नाम की इस इमारत का निर्माण दुबई में किए जाने का प्रस्ताव है। इस इमारत को धरती की सतह से लगभग 50 हजार किलोमीटर ऊपर मौजूद एक धूमकेतु से लटकाया जाएगा। इमारत को लटकाने वाले सिस्टम का नाम यूनिवर्सल ऑर्बिट सपोर्ट सिस्टम (यूओएसएस) है। खास बात यह है कि धूमकेतु जैसे-जैसे चक्कर लगाते हुए अपनी जगह बदलेगा वैसे-वैसे यह इमारत न्यूयॉर्क और हवाना सहित दुनिया के कई शहरों के ऊपर से गुजरेगी।

निर्माण में कम खर्च हो, इसलिए दुबई को चुना

न्यूयॉर्क आधारित कंपनी क्लाउड्स आर्किटेक्चर ऑफिस ने इस प्रोजेक्ट को बनाने के लिए दुबई को चुना है, क्योंकि दुबई को ऊंची इमारत बनाने का अनुभव प्राप्त है। साथ ही वहां इस इमारत के निर्माण में आने वाला खर्च भी कम होगा। इस इमारत को बनाने वाली डिजाइन टीम के मुताबिक न्यूयॉर्क की तुलना में दुबई में इसके निर्माण कार्य का लागत सिर्फ एक चौथाई रह जाएगा।

इमारत के सबसे निचले हिस्से में बनेगा मॉल

डिजाइनिंग टीम के मुताबिक इस इमारत के सबसे नीचे वाले हिस्से में मॉल का निर्माण किया जाएगा। इसमें शॉपिंग कॉम्पलेक्स से लेकर फिल्म दिखाने का भी इंतजाम होगा। सबसे नीचे वाले फ्लोर से ठीक ऊपर ऑफिस के लिए जगह तैयार की जाएगी। बीच का हिस्सा बाग-बगीचों और घरों के लिए रखा जाएगा। यहां तक कि इस इमारत में रहने-सहने के इंतजाम भी किए जाएंगे।