Breaking News

बिहार :: पर्व के रूप में मनाई गई अंबेडकर जयंती, भाजपा ने दलित बच्चों के बीच बांटी शिक्षण सामग्री

दरभंगा : बाबा साहब डा.भीम राव अंबेडकर के 126 वीं जन्म दिवस को पर्व के रूप में मनाते हुए दलित बस्ती रामनगर टोले में बिरौल मंडल अध्यक्ष राजकुमार सहनी की अध्यक्षता में धूम धाम के साथ जयंती समारोह श्रद्धांजलि अर्पित कर मनाई गई। इस अवसर पर 126 बच्चों के बीच कॉपी,पेन,पेन्सिल और स्लेट बांटी गई।

समारोह को सम्बोधित करते विधान पार्षद सुनील कुमार सिंह ने कहा कि महादलितों का हितैषी और शुभ चिन्तक भाजपा ही हैं। भाजपा कार्यकर्ता भारत को डा.अंबेडकर और पं.दीनदयाल उपाध्याय के सपनों का देश बनाने का संकल्प लें। अंबेडकर का सम्पूर्ण जीवन भारतीय समाज में सुधार के लिए समर्पित था। 1990 में भारत रत्न से सम्मानित हुए। उनका सन्देश था शिक्षित बनों और संगठित रहों।छुआ छूत के विरुद्ध संघर्ष किया तथा दलित और शोषितों को सामाजिक समानता का अधिकार दिलाने के लिए काफी संघर्ष किये।
अंबेडकर सामाजिक न्याय के मसीहा थे।अंबेडकर सिर्फ एक व्यक्ति नहीं थे,वे नैतिकता का पर्याय थे।उन्होंने सामाजिक बुराई के खिलाफ आवाज उठाई।
जिला मंत्री सह मंडल प्रभारी अशोक नायक ने कहा कि वर्तमान में मोदी सरकार भी गरीब और वंचित समाज के लिए कई जनकल्याण योजनाओं को लागू किये.जिसके कारण मोदी जी दबे कुचले दलित और पिछडों की आवाज बन गए । अंबेडकर का राष्ट्रवाद और अंत्योदय मूल मंत्र था।

कार्यक्रम का संचालन राजकुमार प्रधान और सम्बोधन प्रदीप प्रधान,प्रवीण नायक,डा शशि भूषण महतो,राजेन्द्र राम,तेतर राम,पप्पू राम,रामलाल चौधरी,रणवीर सिंह,पवन साहू,हेमकांत मिश्र किये।

Check Also

खुशखबरी :: 8300 पीटी शिक्षकों की शीघ्र होगी भर्ती, बिहार के शिक्षा मंत्री ने किया ऐलान

डेस्क : बिहार में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने विधानसभा में कहा कि 8300 …