बिहार :: राज्यपाल ने किया महाराजाधिराज कामेश्वर सिंह के प्रतिमा का अनावरण…

5

दरभंगा -(कुलदीप झा) :: कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय में महामहिम कुलाधिपति रामनाथ कोविंद द्वारा महाराजाधिराज कामेश्वर सिंह की प्रतिमा का अनावरण किया गया, साथ ही नवनिर्मित परीक्षा भवन और अंत: क्रीड़ा स्थल का भी उद्घाटन किया । इसके बाद सीनेट हॉल में उन्होंने एक कार्यक्रम में भाग लिया, भाग लेने जब वह चल रहे थे तो उनका स्वागत एनएसएस के कार्यकर्ताओं द्वारा फूल बरसाकर किया और गेट पर उनका स्वागत मखाने की माला से किया गया । इसके बाद जब व सीनेट हॉल कार्यक्रम में पहुंचे तो उनका स्वागत पाग, चादर, एक स्मृति चिन्ह और मिथिला पेंटिंग देकर किया गया ।कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की तस्वीर पर माल्यार्पण कर तथा दीप प्रज्वलित कर किया गया। कार्यक्रम में डॉक्टर ममता ठाकुर के द्वारा राष्ट्रगान गाकर तथा कुलगीत गाकर महामहिम का स्वागत किया गया । महामहीम ने अपने भाषण में कहा कि दरभंगा महाराज की प्रतिमा का अनावरण करना उनके लिए गर्व का क्षण था और वह यहां आकर अभीभुत हुए । उन्होंने कहा कि दरभंगा महाराज ने शिक्षा के क्षेत्र में काफी कुछ किया है, किसी और महाराज ने शिक्षा के लिए इतना दान नहीं किया ।उन्होंने यह भी कहा कि प्रतिमा को देखकर उन्हें लगा कि वह जितने तन से सुंदर थे उतने ही सुंदर व्यक्तित्व के थे ।उन्होंने महाराजाधिराज कामेश्वर सिंह की तुलना भगवान राम से भी कर दी। इस अवसर पर वहां संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ विद्याधर मिश्र ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर राज किशोर झा संस्कृत विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति देवनारायण झा सहित कई विद्वतजन और प्रशासनिक पदाधिकारी वहां उपस्थित थे ।