Breaking News

दिव्य दीपावली से जुड़ेंगे अयोध्यावासी, रामनगरी में तीन दिनों तक घर-घर जलेंगे दीप

लखनऊ ब्यूरो ( राज प्रताप सिंह ) : योगी सरकार दीपोत्सव पर्व पर त्रेतायुग में प्रभु राम की अयोध्या वापसी के समय का माहौल बनाने की तैयारी में है। जिला प्रशासन, नगर निगम और अवध विवि इस बार रामनगरी में 10 हजार से अधिक मंदिरों समेत घर-घर तीन दिन तक दीप जलाने की नई पहल शुरू करने जा रहा है। इसे लेकर लोगों में भी उत्साह है।

राम के अयोध्या लौटने की खुशी में इस बार 24 से 26 अक्तूबर तक रामनगरी में भव्य दीपावली मनाई जाएगी। पहले जहां दीपोत्सव केवल एक दिन राम की पैड़ी पर फोकस करके आयोजित किया जाता था, वहीं इस वर्ष उत्सव को पूरे शहर में आयोजित करने का निर्णय लिया गया है।

दीपोत्सव कार्यक्रम को अयोध्या के गुप्तारघाट से लेकर भरत जी की तपस्थली नंदीग्राम तक फैलाया जा रहा है। रामनगरी में तीन दिनों तक घर-घर दीप जलेंगे। प्रशासन ने अयोध्यावासियों को दिव्य दीपोत्सव से जोड़ने की नई पहल की है। इसके तहत 10 हजार मंदिरों समेत सभी घरों में दीप जलाने की तैयारी है।

  • नया विश्व रिकॉर्ड रचने से अलग होगा मंदिरों का दीपोत्सव

जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया कि रावण पर विजय प्राप्त करने के बाद माता सीता, भाई लक्ष्मण समेत पूरी सेना के अयोध्या वापसी की खुशी में त्रेतायुग में जो माहौल था, उसी दृश्य को उतारने की तैयारी है। राम की पैड़ी व सरयू घाटों पर 3 लाख 21 हजार दीप जलाकर नया विश्व रिकॉर्ड बनेगा।

इसके अलावा सरयू घाट, गुप्तारघाट, भरतकुंड सहित रामनगरी के 13 बड़े मंदिरों पर इस वर्ष दीप जलाकर राम के अयोध्या आगमन की खुशी मनाई जाएगी। यहां के लिए अधिकारियों की तैनाती की गई है। डीआईओएस शिक्षकों व बच्चों के साथ व्यवस्था संभालेंगे। इसके अतिरिक्त इस वर्ष रामनगरी के घर-घर में दीप जलाने की अपील की जाएगी।

कनकभवन, हनुमानगढ़ी, दशरथमहल, मणिरामदास की छावनी, छोटी देवकाली, गुप्तारघाट, भरतकुंड सहित अन्य मंदिरों में 5001 दीप जलाए जाएंगे।

(फेसबुक पर  Swarnim Times स्वर्णिम टाईम्स लिख कर आप हमारे फेसबुक पेज को सर्च कर लाइक कर सकते हैं।  TWITER  पर फाॅलों करें। वीडियो के लिए  YOUTUBE चैनल को SUBSCRIBE करें)

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …