Breaking News

विदेशी भाषा संस्थान के फ्रेंच भाषा का पहला प्रेरण वर्ग का आयोजन !

दरभंगा: indexpo;ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के अंतर्गत संचालित विदेशी भाषा संस्थान के फ्रेंच भाषा का पहला प्रेरण वर्ग का आयोजन एवं वैश्वीकरण के युग में विदेशी भाषाओं में कैरियर की संभावना विषय पर संगोष्ठी का आयोजन व्यापार प्रबंधन भवन में किया गया। प्रेरण वर्ग का उद्घाटन कुलपति प्रो0 साकेत कुशवाहा ने किया। इसके बाद कुलपति के अध्यक्षता में संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसका उद्घाटन अतिथियों ने सम्मिलित रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। अतिथियों का स्वागत कुलसचिव डाॅ अजित कुमार सिंह ने अपने साहित्यक एवं काव्यात्मक रूप में किया। इस संदर्भ में उन्होंने कहा कि यह संस्थान मिथिलांचल के विकाश के लिए मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने इस संस्थान के उज्जवल भविष्य की कामना की एवं इसके विकास के लिए सभी प्रकार के सहयोग का आश्वासन दिया। संस्थान के निदेशक डाॅ0 प्रेम मोहन मिश्रा ने कहा कि मिथिलांचल के युवाओं को बदलते परिवेश के अनुरूप विद्या अर्जन कर भविष्य में आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने इस संस्था को पुर्नजीवित करने के लिए कुलपति साकेत कुशवाहा के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि प्रो0 कुशवाहा ने मिथिला विश्वविद्यालय को वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाने का उल्लेखनीय कार्य किया हैं।
कुलपति प्रो0 साकेत कुशवाहा ने कहा कि वैश्वीकरण के कारण जहां एक ओर भारतीय कम्पनिया विदेशों में अपना विस्तार करना चाहती है उससे भी अधिक विदेशी कम्पनिया भारत में अपना जाल फैला रही है। भारत अभी दुनिया में सबसे बड़ा उपभोक्ता देश है। अपने व्यवसाय को बढ़ाने के साथ ही ये विदेशी कम्पनियां भारतीय कम्पनियों के साथ मिलकर काफी बड़ा निवेश कर रही है। इसके परिणाम स्वरूप विदेशी भाषा के जानकारों की मांग विभिन्न क्षेत्रों में काफी बढ़ गई है। दुखद यह है कि जिसका कारण विदेशी भाषा सिखाने वाले संस्थान बड़े-बड़े शहरों तक ही सिमित है और उनका शिक्षण शुल्क भी अधिक है। इसी कमी को दूर करने के लिए एवं मिथिलांचल के युवाओं को रोजगारपरक शिक्षा प्रदान करने के लिए न्यूनतम शुल्क में ग्रामीण परिवेश के इस छोटे शहर में संस्थान को स्थापित किया गया है। उन्होंने कहा कि गरीब बच्चें भी विदेशी भाषा पढ़कर सम्मानित रोजगार पा सकेंगे।

Check Also

अब दरभंगा शहरी क्षेत्र में प्रतिदिन टीकाकरण, नहीं होगी वैक्सीन की कमी – डीडीसी तनय सुल्तानिया

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट – कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बिहार में …