Breaking News

जेईई मेन के लिए आवेदन 1 दिसंबर से, 2 अप्रैल को आॅफलाइन तथा आॅनलाइन परीक्षा 8 व 9 अप्रैल को

jee-mainदेशभर के आईआईटी, एनआईटी, ट्रिपल आईटी, जीएफटीआई समेत विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए होनेवाली प्रवेश परीक्षा की प्रक्रिया शुरू होने वाली है। इंजीनियरिंग के इस सबसे बड़े प्रवेश परीक्षा के लिए एक दिसंबर से आवेदन शुरू हो जाएगा। अभ्यर्थी दो जनवरी तक ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे। जेईई मेन की आधिकारिक वेबसाइट www.jeemain.nic.in पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इस बार जेईई मेन में परीक्षा के अलावा आवेदन फॉर्म भरने की प्रक्रिया में भी बदलाव किया गया है। इस वर्ष जेईई मेन में आवेदन करने के लिए आधार कार्ड जरूरी कर दिया गया है। बिना आधार कार्ड के छात्र जेईई मेन के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगे। 2 अप्रैल को ऑफलाइन और 8 व 9 अप्रैल को ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की जाएगी। परीक्षा का रिजल्ट 27 अप्रैल को घोषित किया जाएगा। सीबीएसई की ओर से इसकी सूचना छात्रों को दे दी गई है।

लड़कियों के लिए आधी फीस-

जेईई मेन में आवेदन करनेवाली लड़कियों से आधी फीस ली जाएगी। ऑफलाइन परीक्षा के लिए जनरल और ओबीसी कैटेगरी में लड़कों को एक हजार रुपए और लड़कियों को 500 रुपए फीस के रूप में देने होंगे। एससी-एसटी में लड़कियों और लड़कों दोनों को 500 रुपए ही फीस लगेंगी। ऑनलाइन परीक्षा के लिए जनरलऔर ओबीसी लड़कों को 500 और लड़कियों को 250 रुपए देने होंगे। एससी-एसटी में लड़कों और लड़कियों दोनों को 250 रुपए ही लगेंगे।

matricguruयूआईडीएआई डाटा से होगा मिलान- नए नियमों के मुताबिक आवेदन करने वाले छात्रों के नाम, जन्मतिथि, पता आदि जानकारी का सत्यापन आधार कार्ड में दर्ज जानकारी से किया जाएगा। इसके बाद ही आवेदन स्वीकार किए जाएंगे। फॉर्म में दी गई जानकारी का यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (यूआईडीएआई) डाटा से मिलान किया जाएगा। डाटा मैच नहीं करने पर आवेदन करने से वंचित कर दिया जाएगा।

जल्द करा लें सुधार-

सीबीएसई ने छात्रों को सलाह दी है कि वे जल्द अपने स्कूल डाटा से आधार कार्ड का डेटा मैच कर लें, क्योंकि अगर डाटा नहीं मिलेगा, तो वे फॉर्म नहीं भर पाएंगे। इसके अलावा जो छात्र अभी तक आधार कार्ड नहीं बनवा पाए हैं, वे भी जल्द बनवा लें। जेईई मेन के आधार पर देश के 31 एनआईटी, 20 ट्रिपल आईटी, 18 जीएफटीआई समेत अन्य इंजीनियरिंग संस्थानों में दाखिला होगा।

avanueनहीं जुटेगा 12वीं का अंक- इस बार जेईई मेन की रैंकिंग तैयार करने में 12वीं के अंकों का वेटेज नहीं दिया जाएगा। इस फैसले का असर यह होगा कि जेईई मेन की ऑल इंडिया रैंक अब सिर्फ जेईई मेन स्कोर के आधार पर ही बनाई जाएगी। जेईई मेन में सफल टॉप दो लाख 20 हजार छात्रों को जेईई एडवांस में शामिल होने का मौका मिलेगा, लेकिन 12वीं में 75 प्रतिशत अंक वाले ही जनरल और ओबीसी के छात्र जेईई एडवांस में शामिल हो सकेंगे। एससी-एसटी छात्रों को 65 प्रतिशत अंक होने जरूरी हैं। जेईई एडवांस 21 मई को होगा। इसके आधार पर आईआईटी पटना समेत देश के विभिन्न 23 आईआईटी में दाखिला होगा। सभी आईआईटी में कुल 11 हजार सीटें हैं।

Check Also

इंतजार खत्म ! आ गया नगर निगम चुनाव की नई तारीख, देखें शेड्यूल…

डेस्क : बिहार राज्य निर्वाचन आयोग ने निकाय चुनाव का शेड्यूल जारी कर दिया है। …