Breaking News

कमला – बलान नदी के जलस्तर में कमी के संकेत मिलने शुरू !

timthumbदरभंगा। कमला – बलान नदी के जलस्तर में कमी के संकेत मिलने शुरू हो गए हैं। बाढ़ नियंत्रण प्रमण्डल, झंझारपुर से प्राप्त सूचना के अनुसार बुधवार की सुबह कमला-बलान का जलस्तर 51.10 मीटर था, जो कि शाम में घटकर 50.75 मीटर हो गया है। इस प्रकार लगभग 35 से0मी0 की कमी दर्ज की गई। मंगलवार की रात घनश्यामपुर प्रखण्ड के बौर ग्राम के निकट कमला तटबंध के 73 किलोमीटर प्वाइंट पर पानी का रिसाव शुरू हो गया था, जिससे रातों रात प्रशासनिक व तकनीकी पहल पर निरोधात्मक कार्यवाही करते हुए रिसाव को रोक लिया गया। इस स्थान पर अब कोई खतरे की संभावना नहीं है। इधर एहतियात के तौर पर जिला प्रशासन द्वारा हाई-एलर्ट जारी कर सभी तकनीकी व प्रशासनिक पदाधिकारियों की छुट्टियाँ रद्द कर दी गई है। साथ ही, सभी पदाधिकारी को अपने मुख्यालय में बने रहने का आदेश दिया गया है।


मंगलवार की रात किरतपुर प्रखण्डान्तर्गत किरतपुर चैक से डेढ़ किलोमीटर दक्षिण सिमरी के निकट तटबंध पर भी रिसाव की सूचना मिली, जिसपर त्वरित कार्यवाही करते हुए उस पर नियंत्रण पाया लिया गया। यहां भी स्थिति खतरे से बाहर है।

कोशी तटबंध प्रमण्डल, निर्मली के कार्यपालक अभियंता के अनुसार कोशी नदी का जलस्तर धीरे-धीरे घटने लगा है। मंगलवार को जहां इसके अधिग्रहण क्षेत्र में 2 लाख 87 हजार घनफीट प्रति सेकेण्ड पानी का बहाव था, वहीं बुधवार को घटकर मात्र 02 लाख 37 हजार घनफीट प्रति सेकेण्ड हो गया।

खिरोई नदी, अधवारा समूह की नदियां तथा बागमती नदी का जलस्तर खतरे के निशान से लगभग 5 मीटर नीचे है। वहीं करेह नदी भी खतरे के निशान से लगभग पौने दो मीटर नीचे बह रही है।

बुधवार को जिलाधिकारी डा0 चन्द्रशेखर सिंह के द्वारा कमला – बलान व कोशी तटबंध का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण उपरांत डाॅ0 सिंह ने बताया कि स्थिति नियंत्रण है और चिंता की कोई बात नहीं है।

जिलाधिकारी डा0 सिंह के आदेशानुसार एनडीआरएफ की टीम को भी घनश्यामपुर तथा किरतपुर प्रखण्ड के संभावित तटबंधों की निगरानी हेतु रवाना कर दिया गया है। टीम द्वारा निरोधात्मक कार्यवाही व गश्ती की जा रही है।

बिरौल अनुमण्डल में तत्काल 73 नावों का परिचालन भी शुरू करा दिया गया है, जिसमें मुख्य रूप से घनश्यामपुर, किरतपुर, गौड़ाबौराम, बिरौल तथा कुशेश्वरस्थान पूर्वी के जल प्लावित क्षेत्रों में सरकारी नावों का परिचालन कराया जा रहा है, ताकि ग्रामीण को कोई कठिनाई नहीं होने पाए।

भारतीय मौसम विज्ञान से प्राप्त आँकड़ों के अनुसार अगले 24 घंटे में मौसम सामान्य रहेगा, नमी वाले क्षेत्रों में भारी वर्षा हो सकती है। उपरोक्त सारी जानकारी वरीय उप समाहत्र्ता-सह- प्रभारी पदाधिकारी, आपदा प्रबंधन विभाग रवीन्द्र कुमार दिवाकर ने दी।

Check Also

दरभंगा कंकाली मंदिर के पुजारी की गोली मारकर हत्या, 3 अपराधियों की आक्रोशित लोगों ने की पिटाई एक की मौत 2 की हालत गंभीर एक भक्त भी गोली लगने से ज़ख्मी

राजू सिंह की रिपोर्ट दरभंगा : दुर्गापूजा के महानवमी की अहले सुबह दरभंगा में अपराधियों …