Breaking News

मनरेगा में मेट का दायित्व निभाएंगी महिलाएं !

चतरा (रांची ब्यूरो) : मनरेगा में पुरुष मेटों को हटाकर महिलाओं के चयन का निर्देश मुख्य सचिव राजबाला वर्मा ने शनिवार को वीडियो कांफ्रेसिंग में मनरेगा और इंदिरा आवास योजनाओं की समीक्षा के दौरान जिले के अधिकारियों को दिया। उन्होंने कहा कि पुरुष मेटों द्वारा बिचैलियागिरी करने की लगातार शिकायतें मिल रही थी। जिसके कारण पुरुषों को हटाकर उनके स्थान पर महिलाओं का चयन का निर्णय लिया गया है। समाहरणालय के एनआईसी भवन में आयोजित वीडियो कांफ्रेसिंग में डीडीसी बिरसाय उरांव व परियोजना पदाधिकारी फर्नींद्र कुमार गुप्ता मौजूद थे। मुख्य सचिव ने कहा है कि 31 जुलाई से पूर्व किसी भी परिस्थिति में जाबकार्डधारियों का पोस्टआफिस एकांउट बंद कर बैंकों में खाता खुल जाना चाहिए। इसके लिए उन्होंने ने गांव स्तर पर सोमवार से लेकर बुधवार तक शिविर आयोजित करने का निर्देश दिया है। शिविर में पंचायत सेवक, रोजगार सेवक एवं मनरेगा मेट उपस्थित रहेंगे और जाबकार्डधारकों का बैंक खाता के लिए आवेदन लेंगे।

मुख्य सचिव ने मनरेगा की 31 मार्च 2015 तक की सारी अधूरी योजनाओं को बंद कर देने का भी निर्देष दिया है। चतरा जिला में ऐसी योजनाओं की संख्या करीब चार हजार है। इससे पूर्व करीब ढाई हजार योजनाएं बंद की जा चुकी है। इंदिरा आवास की समीक्षा करते हुए मुख्य सचिव ने कहा है कि लंबित योजनाएं अभियान चलाकर पूरा करें। लंबित योजनाओं के क्रियान्वयन में शिथिलता बरतने वाले पदाधिकारियों व कर्मियों का चिंन्हित कर कार्रवाई करने की बात कही। वीडियो कांफ्रेसिंग में मुख्य सचिव के साथ ग्रामीण विकास विभाग के प्रधान सचिव एनएन सिन्हा व मनरेगा आयुक्त सिद्धार्थ त्रिपाठी मौजुद थे।

Check Also

खुशखबरी :: 8300 पीटी शिक्षकों की शीघ्र होगी भर्ती, बिहार के शिक्षा मंत्री ने किया ऐलान

डेस्क : बिहार में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने विधानसभा में कहा कि 8300 …