Breaking News

उ०प्र० :: विवाहिता की जलकर मौत, परिजनों ने लगाया दहेज हत्या का आरोप

लखनऊ,ब्यूरो:राज प्रताप सिंह – राजधानी के थाना निगोहां के करनपुर गांव में एक सप्ताह पहले संदिग्ध परिस्थितियों में आग से जली विवाहिता की सोमवार सुबह इलाज के अभाव में घर पर मौत हो गयी। मृतक की मां ने निगोहां थाने पर ससुराली जनों के पांच लोगों पर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया। वहीं ससुराली जन मौके से भाग गए। पुलिस का कहना है कि शव को पीएम के लिए भेज दिया है आरोपियों की तलाश की जा रही है।लखनऊ ट्रांसपोर्ट नगर की रहने वाली शिवकुमारी ने बताया कि वह एलडीए विभाग में कार्यरत है उनके पति बेचन सिंह की कुछ वर्ष पूर्व मृत्यु हो गयी थी। बताया की उन्होंने अपनी बेटी मोहिनी सिंह (20) का विवाह एक वर्ष पूर्व निगोहां थाना क्षेत्र अंतर्गत करनपुर गांव के रहने वाले करन सिंह के बेटे अमित सिंह के साथ किया था। शादी के बाद से ही बेटी को ससुराल जन दहेज कम मिलने की बात कहकर उनकी बेटी को प्रताड़ित कर रहे थे। बीते 18 नवम्बर की सुबह इसी दहेज की मांग करते हुए उनकी बेटी को पति अमित, ससुर करन, सास रेखा सिंह, जेठ विपिन सिंह व नंनद सरिता सिंह ने उनकी बेटी पर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी। गांव के लोगों द्वारा उनकी बेटी के जलने की सूचना मिली जिसके बाद वह बेटी को लेकर सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। और रविवार को पति मेडिकल कालेज से घर ले आये जहा सोमवार की सुबह उनकी बेटी मोहिनी की ससुराल में मौत हो गयी। वहीं मृतका की मां ने निगोहां थाने पर ससुराल जन के पांचों लोगों पर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया। मा ने बताया कि मौत के बाद से ही बेटी के ससुराल जन मौके से फरार हो गए। एसओ चैम्पियनलाल ने बताया  कि शव को पीएम के लिए भेज दिया है आरोपियों की तलाश की जा रही है।सास शिवकुमारी ने बताया कि जब उनकी बेटी को जलाया उसके बाद ससुराल वाले सिविल अस्पताल ले गए जहाँ से डॉक्टरों ने मेडिकल कालेज रिफर कर दिया इसके बाद पति इलाज न कराने की दशा में रविवार को घर करनपुर ले आये जहा सोमवार की सुबह मौत हो गयी।

Check Also

योगीता फाउंडेशन :: मन, वचन व कर्म में समानता रखने वाले गांधी व शास्त्री ने आत्मनिर्भर समाज का देखा था सपना- मनोज शर्मा

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का जीवन दर्शन एवं …

Leave a Reply

Your email address will not be published.