Breaking News

बिहार में बाढ़ :: हवाई सर्वेक्षण के बाद पीएम मोदी द्वारा 500 करोड़ की तुरंत सहायता

डेस्क : शनिवार को बिहार पहुंचे प्रधानमंत्री ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया. इसके बाद उन्होंने पूर्णिया में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ क्षतिपूर्ति, राहत एवं पुनर्वास के कार्यों की विस्तार से समीक्षा की.

समीक्षा के बाद पीएम ने राज्य को हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया. उन्होंने 500 करोड़ रुपए की तुरंत सहायता की भी घोषणा की. प्रधानमंत्री ने नुकसान के आकलन के लिए तुरंत ही केंद्र से एक टीम को भेजने का भी आश्वासन दिया. 

मोदी सुबह वायुसेना के विमान से पूर्णिया पहुंचें जहां से वो बिहार के बाढ़ग्रस्त चार जिलों का हवाई सर्वेक्षण करने गये. पूर्णिया में प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे. प्रधानमंत्री हवाई सर्वेक्षण के लिये अररिया, पूर्णिया, किशनगंज और कटिहार के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में गये और उसके बाद पूर्णिया में ही बाढ़ की स्थिति को लेकर उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की. पीएम ने अपने इस दौरे को लेकर ट्वीट भी किया था.

उन्होंने निर्देश दिया कि किसानों के फसल बीमा के सम्बन्ध में क्लेम का तुरंत आंकलन करने के लिए बीमा कम्पनियां अपने पर्यवेक्षक तत्काल प्रभावित क्षेत्रों में भेजें, जिससे किसानों को शीघ्र ही राहत पहुंचाई जा सके. बाढ़ से प्रभावित सड़कों की मरम्मत के लिए सड़क एवं परिवहन मंत्रालय को उपयुक्त कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया गया.

पीएम ने कहा कि बाढ़ से प्रभावित विद्युत् इंफ्रास्ट्रक्चर की शीघ्र बहाली के लिए भी केन्द्र, राज्य सरकार की हर संभव मदद करेगा. घोषणा के मुताबिक प्रधानमंत्री राहत कोष से प्रत्येक मृतक के परिवार को 2 लाख रुपए एवं गंभीर रूप से घायल व्यक्ति को 50 हजार रुपए की दर से सहायता दी जाएगी. लगभग ढ़ाई घंटे के बिहार दौरे के दरम्यान उन्होंने चार जिलों का हवाई सर्वे किया.हवाई सर्वेक्षण के दौरान पीएम के साथ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार भी थे.

गौरतलब है कि राज्य के 19 जिलों के 186 प्रखंडों की 1.61 करोड़ से ज्यादा की आबादी बाढ़ से प्रभावित है. बाढ़ की चपेट में आने से अब तक 418 लोगों की मौत हो चुकी है.

Check Also

अब पेट्रोल पंपों से भी मिलेगा “छोटू” सिलेंडर

– छोटे उपयोगकर्ताओं के लिए कम कम औपचारिकता का कनेक्शन– 5 किलो वाला एलपीजी सिलेंडर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *