अनूठी पहल :: मिथिला पेंटिंग के जरिए पर्यावरण संरक्षण, महिलाओं द्वारा पेड़ों पर पेंटिंग बनाकर जागरूकता अभियान

7

सुपौल : त्रिवेनीगंज की महिलाओं का एक ग्रुप पेड़ों की अंधाधूंध कटाई और पर्यावरण संरक्षण को लेकर सक्रिय रूप से आगे आया है। इस ग्रुप ने मिथिला पेंटिंग के जरिए लोगों को जागरूक करने का बीड़ा उठाया है. ये ग्रुप इलाके के पेड़ों पर मधुबनी पेंटिंग उकेर कर बचाने की कोशिश कर रहा है.

महिलाओं की इस पहल की लोग काफी प्रशंसा कर रहे हैं. इस अभियान के तहत अलग-अलग इलाकों में जाकर पेड़ों पर मिथिला पेंटिंग के माध्यम से लोगों को जागरूक किया जा रहा है.

खास बात ये है कि इस अभियान को, मिथिला पेंटिंग की जनक कही जाने वाली और 2011 में पद्म विभूषण से सम्मानित महासुंदरी देवी के परिजन भी इसे सफल बनाने में जुटे हैं. महासुंदरी देवी की पुत्रवधू सहित अन्य परिजन इस काम को अंजाम दे रहे हैं. इस पहल से आकृष्ट हुए त्रिवेनीगंज अनुमंडल पदाधिकारी ने भी विशेष रूचि लेते हुए, हर मदद की पेशकश की है.

महासुंदरी देवी की मौत कुछ दिनों पहले हुई है, लेकिन विरासत में मिली इस प्रतिभा को परिवार के सदस्यों ने जनहित में करने की ठानते हुए इसे चुनौती के रूप में स्वीकार किया. इसी के चलते वो अब इस काम को अंजाम देने में जूट गए हैं.