उ०प्र० :: नौकर ने मालिक को मौत के घाट उतारा,फरार..

5
प्राप्त जानकारी के अनुसार शिक्षक के पद से रिटायर्ड सुन्‍दर सिंह(65) मूसानगर गांव में अपने परिवार के साथ रहते थे। उनके घर पर पिछले 3 वर्षों से लल्लू यादव नौकरी कर रहा था। बीती रात मच्‍छरदानी लगाने को लेकर सुन्‍दर सिंह ने उसे डात दिया,जो लल्लू को नागवारी। इतना ही नही लल्‍लू ने वहां से जाते समय उसे देख लेने की धमकी तक दी।
आज सुबह जब सुन्‍दर का बेटा उन्‍हें जगाने पहुंचा तो बिस्‍तर पर उनकी लाश पड़ी थी। उनके सिर और कान के पास कुदाल से वार कर उनकी हत्या कर दी गई थी। जबकि लल्‍लू घर से गायब था। परि‍स्थितिजन्‍य साक्ष्‍य बता रहे हैं, तड़के सोते समय ही लल्‍लू ने कुदाल से ताबड़तोड़ वारकर बुजुर्ग टीचर को मौत के घाट उतार दिया। परिजनों के मुताबिक लल्‍लू की मानसिक स्थिति भी ठीक नहीं थी। और उसने कुछ महीने पूर्व भी सुन्‍दर सिंह को देख लेने की धमकी दी थी। लल्लू की मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने के चलते घरवालों ने उसकी इस धमकी को नजरअंदाज कर दिया था।
इस घटना के बाद जो बड़ी लापरवाही सामने आयी है वो यह है कि सुन्‍दर सिंह के परिजन पुलिस को हत्यारे नौकर का मूल पता बता पाने में अक्षम दिखे। लल्‍लू ने खुद को इटौंजा का रहने वाला बताया था,जबकि पुलिस ने मौके से मिले मोबाइल फोन के आधार पर जब छानबीन की तो वह सीतापुर के अटरिया का रहने वाला निकला। फिलहाल पुलिस लल्‍लू के पिता और भाई से पूछताछ कर उसको पड़ने के प्रयास में जुट गई है।