Breaking News

बाढ़ आपदा संग कोरोना को लेकर भी दरभंगा डीएम सक्रिय, डीएमसीएच के 6 डॉक्टरों का 1 दिन का रोका वेतन व मांगा कारणपृच्छा

डेस्क : बाढ़ आपदा के साथ कोरोना महामारी को लेकर दरभंगा दोहरी आपदा से जूझ रहा है ऐसे में दरभंगा डीएम डॉ त्यागराजन द्वारा एक तरफ बाढ़ ग्रस्त इलाकों में राहत कार्य चलाया जा रहा है तो दूसरी ओर कोरोनावायरस से उत्पन्न स्थिति को लेकर इससे निपटने के लिए भी जिलाधिकारी सक्रिय हैं। जिसको लेकर लगातार संबंधित पदाधिकारियों के साथ जिलाधिकारी बैठक कर दोहरी आपदा से निपटने के लिए निर्देश दे रहे हैं और खुद जिले के वर्तमान हालात पर नजर भी बनाए हुए हैं।

दरभंगा जिलाधिकारी द्वारा कोरोना की रोकथाम को लेकर डीएमसीएच में कोरोना संक्रमित मरीजों के ईलाज के लिए प्रशिक्षु सहायक समाहर्ता प्रियंका रानी के नेतृत्व में एक मॉनिटरिंग सेल की स्थापना की गई तथा रोस्टर तैयार कर डॉक्टरों एवं कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। बताया गया कि 3 दिन पहले जाँच के क्रम में 6 डॉक्टर कार्य से अनुपस्थित पाए गए। प्रशिक्षु आईएएस के प्रतिवेदन पर जिलाधिकारी द्वारा सभी अनुपस्थित डॉक्टरों से कारण पृच्छा करते हुए उनका 1 दिन का वेतन रोकने का आदेश दिया गया है।

जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम. द्वारा अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में कोरोना संबंधी तैयारियों की समीक्षा बैठक की गई। जिलाधिकारी द्वारा सिविल सर्जन, जिला स्वास्थ्य समन्वयक एवं डीएमसीएच के अधीक्षक से जिले में कोरोना संबंधी आइसोलेशन बेड, कोरोना डेडिकेटेड, ऑक्सीजन सिलेंडर, वेंटिलेटर आदि की संख्या एवं स्थिति की समीक्षा की गई।

  • कोरोना की रोकथाम को लेकर की गयी बैठक
  • प्रतिदिन किये जा रहे हैं 300 एंटीजेन टेस्ट
  • 200 बेड का होगा डेडिकेटेड कोरोना वार्ड
  • जिला में 350ऑक्सिजन सिलिंडर है उपलब्ध


उन्होंने जिले में एक 100 बेड का आइसोलेशन डेडिकेटेड कोरोना वार्ड तथा बेनीपुर एवं बिरौल में 50-50 बेड वाला कोरोना वार्ड तैयार करने का निर्देश दिया।
बैठक में सिविल सर्जन संजीव कुमार सिन्हा द्वारा बताया गया कि जिले में 350 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध हैं, जिन्हें जिले के विभिन्न अस्पताल, अनुमंडलीय अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में वितरित किया जा रहा है। जिलाधिकारी द्वारा अतिरिक्त वांछित ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए निविदा निकालकर क्रय करने का निर्देश दिया गया।
जिला स्वास्थ्य समन्वयक द्वारा बताया गया कि 250 बेड का क्रय किया गया है तथा बेनीपुर में 200 बेड, जाले में 60 बेड तथा बहादुरपुर में 30 बेड के साथ जिले में कोरोना संक्रमित के इलाज के लिए पर्याप्त संख्या में बेड उपलब्ध हैं। जिलाधिकारी द्वारा विभाग से ऑक्सीजन पाइप लाइन की मांग करने, 20 नए आये वेंटिलेटर को स्थापित करने तथा स्वास्थ्य सेवा में कर्मियों की संख्या बढ़ाने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया गया।
जिलाधिकारी द्वारा सभी से कोरोना की रोकथाम एवं ईलाज में आनेवाली समस्याओं बारे में पूछताछ की गयी तथा उनका समाधान बताया गया।

कोरोना के रैपिड एंटीजन टेस्ट के बारे में पूछे जाने पर जिला स्वास्थ्य समन्वयक द्वारा बताया गया कि प्रत्येक दिन 300 से अधिक टेस्ट किए जा रहे हैं। टेस्ट किट्स सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र , 01 अनुमंडलीय अस्पताल तथा डीएमसीएच में उपलब्ध करा दिया गया।जिलाधिकारी द्वारा बेनीपुर में कोरोना स्पेशल वार्ड का निर्माण कल तक पूरा करने का निर्देश दिया गया तथा बताया गया कि उनके द्वारा परसों वहाँ स्पेशल वार्ड की जाँच की जाएगी। जिलाधिकारी ने नए केस वाले क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित करने संबंधी आदेश भी निकालने का आदेश दिया। इस बैठक में प्रशिक्षु सहायक समाहर्त्ता प्रियंका रानी, सिविल सर्जन, जिला स्वास्थ्य समन्वयक, अधीक्षक डीएमसीएच डॉ राज रंजन प्रसाद, नोडल पदाधिकारी जन संपर्क राहुल कुमार आदि उपस्थित थे।

Check Also

विश्व दिव्यांगता दिवस की पूर्व संध्या पर पुअर होम दरभंगा में कार्यक्रम आयोजित

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : राष्ट्रवादी सोच पर आधारित सक्षम संस्था के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *