लखनऊ:बिजली बिभाग की लापरवाही से किसान के भैंस की मौत

1

बिजली बिभाग की लापरवाही से किसान के भैंस की मौत

रामकिशोर रावत

माल,लखनऊ।बिजली विभाग की लापरवाही के चलते बस्ती के बीच एक फिट की ऊँचाई पर रखा 250 केवीए का विद्युत ट्रांसफार्मर के खुले तारो की चपेट में आने से किसान की कीमती भैस तड़प तड़प कर मर गयी। सूचना के बाद भी बेपरवाह कर्मचारियों ने लाइन आफ नही की जिससे एक घंटे तक करेंट दौड़ता रहा । इस बीच पास से गुजर रहा मुहल्ले का एक बच्चा करेंट की चपेट में आने से बच गया। मुहल्ले के लोगों ने दौड़कर बच्चे को उठा लिया।

बिजली विभाग की लापरवाही के चलते बुधवार एक किसान की लगभग 70 हजार रुपये कीमत की भैंस विजली के खुले तारो की चपेट में आकर दम तोड़ दिया। मुन्नुखेड़ा(रामनगर) गाँव निवासी किसान रामविलाश पुत्र छोटेलाल की भैंस बस्ती के बीच मे खुले में रखे 250 केवीए के टीएफ के पास चर रही थी। जिसके खुले तारो में दौड़ रहे करेंट की चपेट में आ गयी जिससे उसकी तड़प तड़प कर मौत हो गयी। ग्रामीणों के अनुसार हादसे के समय घटना की सूचना ग्रामीणों द्वारा विजली विभाग को दी गयी, लेकिन लापरवाह विद्युत कर्मचारियो ने एक घंटे तक फीडर बन्द नही किया ।

यूपी:विवेक तिवारी हत्याकांड: पत्नी ने देखा लाइव रीक्रिएट क्राइम सीन, चश्मदीद भी थी मौजूद

जिससे खुले तारो में करेंट दौड़ता रहा। इस बीच यदि ग्रामीण भैस के पास पहुच जाते तो सामूहिक मौते भी हो सकती थी। इसके पहले भी हुयी कई पशुओं की मौत से विभाग ने कोई सबक नही लिया। बताते चले इससे पूर्व प्रकाश धोबी का गधा, छोटे लाल के दो सुवर, व एक बकरी करेंट की चपेट में आकर मर चुकी है। जिसपर बिजली विभाग ने खुले में रखे ट्रांसफार्मर की बैरिकेटिंग कर सुरक्षित करना मुनासिब नही समझा शायद विभाग को किसी बड़ी घटना का इंतजार है।

निचे कमेंट बॉक्स में अपनी प्रतिक्रिया जरुर लिखें