Breaking News

यूपी :: पेट में गर्भ – गोद में मासूम लेकर पत‍ि को ढूंढ रही थी लेडी, लाश म‍िली तो बोली ये बातें…

लखनऊ(राज प्रताप सिंह) : इटौंजा थाना के जलालपुर में संद‍िग्ध पर‍िस्थ‍ित‍ियों में 3 सप्ताह पहले से गायब व्यक्त‍ि की बुधवार को लाश की पहचान होने के बाद नया मोड़ ले ल‍िया है। गुरुवार को थाने के पास प्रदर्शन कर रही मृतक की प्रेग्नेंट पत्नी ने इंस्पेक्टर पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पीड़‍िता का कहना है क‍ि पत‍ि के गायब होने के बाद वह थाने जाकर इंस्पेक्टर से म‍िली और उनकी कि‍डनैप होने की नामजद तहरीर दी। केस दर्ज करने के बाद इंस्पेक्टर ने कहा खुद पत‍ि को खोजकर बताओ की कहां है। तब से वह पेट में गर्भ और गोद में अपने डेढ़ साल के एक मासूम को लेकर पत‍ि की तलाश में भटक रही थी। इंस्पेक्टर की लापरवाही से पत‍ि की हत्या हुई है।

जलालपुर गांव निवासी एक प्रेग्नेंट महिला सरोनी का पति राजेश संदिग्ध परिस्थियों में बीते 3 अप्रैल को गायब हो गया था। पीड़िता थाने जाकर इंस्पेक्टर इटौंजा से मिली और अपने पति के क‍िडनैप होने की नामजद तहरीर दी थी।

बताया जाता है क‍ि बीते बुधवार को बाराबंकी के देवा कोतवाली की मित्तई पुलिस चौकी क्षेत्र की नहर के किनारे पीड़‍िता के पति की बाइक और कपड़े पुलिस को मिले, जिससे उसकी पहचान हुई।पीड़िता के पति का शव करीब 10 दि‍न पहले बाराबंकी के देवा कोतवाली क्षेत्र में मिला था। पुलिस अज्ञात मामले में शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा था। पहचान होने के बाद पुल‍िस ने इस मामले में एक महिला समेत तीन को गिरफ्तार कर ल‍िया, जबक‍ि मुख्य आरोप अभी भी फरार चल रहा है।

मह‍िला ने बीकेटी एसडीएम से लगाई थी न्याय की गुहार​

मह‍िला के अनुसार, थाने चौकी पर गुहार लगाने पर न्याय न मिलता देख महिला एसडीएम ज्योत्सना यादव को अपनी पीड़ा और इंस्पेक्टर अशोक कुमार पांडेय की लापरवाही की बात बताई थी।इस पर एसडीएम ने इंस्पेक्टर को निर्देश दिया था कि पीड़िता के पति को खोजने में तत्परता दिखाई जाए।

घर से बाइक लेकर न‍िकला था पति
सरोनी के अनुसार, राजेश (25) कैटिरिंग का काम करता था। 3 अप्रैल को घर से बाइक लेकर निकला था। जब वह देर रात तक घर वापस नहीं लौटा तो काफी खोजबीन की। कोई सुराग न म‍िलने पर इटौंजा थाने में तहरीर दी।

उसने अपनी तहरीर में शिवपुरी बीकेटी निवासी कुछ व्यक्तियों पर क‍िडनैप करने का आरोप लगाया था। आरोप है पुलिस क‍िडनैप के बजाय गुमशुदगी का केस दर्ज कर मामले को ठंडे बस्ते में डाल द‍िया।

साहब आरोपी को गिरफ्तार करो, पति मिल जाएगा

पीड़िता सरोनी ने बताया कि वह करीब 10 दिन पहले थाना इटौंजा गई थी। इंस्पेक्टर से बताया कि उसके पति को बाराबंकी के विशुनपुर गांव में बंधक बनाकर कुछ लोगों ने रखा है।

मह‍िला ने अपने पेट में पल रहे गर्भ और डेढ़ साल के मासूम के पालन-पोषण का हवाला देते हुए कहा कि साहब पति को बचा लो,वो लोग मेरे पति को मार डालेंगे। सरोनी का आरोप है इंस्पेक्टर का दिल नहीं पसीजा और उन्होंने कहा क‍ि ऐसे किसी को कैसे गिरफ्तार कर लें।

क्या कहते हैं इंस्पेक्टर

इंस्पेक्टर अशोक कुमार पांडेय ने बताया क‍ि राजेश का बीकेटी क्षेत्र के रहने वाले संजय की बहन से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। इसी के चलते राजेश को बहाने से बुलाकर बाराबंकी कोतवाली क्षेत्र के माती में ले जाकर हत्या कर दी गई।

उसकी बाइक और कपड़े देवा कोतवाली की मित्तई पुलिस चौकी क्षेत्र के इब्राहीमपुर शारदा नहर के किनारे बुधवार को बरामद हुए। कपड़ों और बाइक से पत्नी ने शिनाख्त किया। आरोपी बीकेटी क्षेत्र निवासी संजय, पूनम, कृष्णपाल को ग‍िरफ्तार कर ल‍िया गया है, जबक‍ि पूनम का पति फरार है।

Check Also

LNMU :: हिंदी विभाग में नवचयनित सहायक प्राध्यापकों को किया गया सम्मानित

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग …