बिहार :: अमानवीय घटना के विरोध में 3 अप्रैल को दरभंगा में चक्का जाम

2

दरभंगा : एक ऐसी अमानवीय घटना जिसने जिला प्रशासन पर कई सवाल खड़े कर चुकी है और इसी क्रम में लहेरियासराय थाना प्रभारी को.भी निलंबित किया जा चुका है. बीते 25 मार्च को भूमि विवाद में मनोज कुमार चौधरी को बीच सड़क पर पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जलाने का मामला थमने का नाम नही ले रहा है.शनिवार को ऑल इण्डिया बेदारी कारवाँ के राष्ट्रीय अध्यक्ष नजरे आलम के समर्थन में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने बेला मोड़ को जाम कर जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला दहन किया. दरभंगा पुलिस की दंगा नियंत्रण वाहन ने मौके पर पहुंचकर हल्का बल प्रयोग किया जिसमें दो लोगों को चोटे भी आयी हैं. वही ऑल इण्डिया बेदारी कारवाँ के राष्ट्रीय अध्यक्ष नजरे आलम ने कहा कि घटना के विरोध में 3 अप्रैल को दरभंगा में चक्का जाम रहेगा. प्रदर्शनकारियों ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की. नजरे आलम ने कहा कि उनका विरोध तब तक जारी रहेगा जब तक यहां के प्रशासन में बदलाव नहीं किया जाता है.

बता दें कि लहेरियासराय थाना क्षेत्र के कॉमर्शियल चौक के पास स्थित गुप्ता स्वीट्स के मालिक कैलाश प्रसाद गुप्ता द्वारा बीते 25 मार्च को भूमि विवाद में मनोज कुमार चौधरी को बीच सड़क पर पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जला दिया गया जिससे उनकी ईलाज के क्रम में मौत हो गई.