Breaking News

उ०प्र०:: दारोगा जी की पिस्टल ढूंढने में पुलिस परेशान !

 

लखनऊ (राज प्रताप सिंह)-होली के मौके पर सड़क हादसे में घायल दरोगा की सर्विस पिस्टल की तलाश में आईजी जोन ने इंस्पेक्टर इटौंजा को कड़ी फटकार लगाई है।इस पर पुलिस ने एक युवक को हिरासत में लिया है लेकिन पिस्टल का कोई सुराग अभी तक नहीं लगा।

पुलिस के मुताबिक रायबरेली में यूपी 100 की टीम में तैनात दरोगा होली के दिन ड्यूटी करके बाइक से सीतापुर  स्थित अपने घर जा रहा था रास्ते में अलादादपुर के पास हाईवे पर गलत दिशा से अचानक सामने आई कार ने उसे टक्कर मार दी गंभीर रुप से घायल दरोगा को साढ़ामऊ अस्पताल में भर्ती कराया गया इस दौरान उनका सर्विस पिस्टल गुम हो गया एसपी रायबरेली ने इजाजत के बगैर मुख्यालय छोड़ने और सर्विस पिस्टल लेकर दूसरे जिले में स्थित घर जाने के आरोप में दरोगा के खिलाफ विभागीय कार्यवाही शुरु की इधर इटौंजा थाने में सड़क हादसे में दरोगा के घायल होने व सर्विस पिस्टल चोरी होने का केस दर्ज कराया गया लेकिन इटौंजा पुलिस सर्विस पिस्टल के तलाश में लापरवाह बनी रही। सरकारी असलहा गायब होने के मामले में रायबरेली पुलिस की क्लास ले रहे आईजी जोन ए सतीश गणेश ने इंस्पेक्टर इटौंजा अशोक कुमार पांडेय को बुधवार को फोन करके तफ्तीश के बारे में पूछा लापरवाही नजर आने पर उन्होंने इंस्पेक्टर की जमकर फटकार लगाते हुए चार दिन का अल्टीमेटम दिया।आई जी ने चेताया कि इटौंजा थाने की अनेक शिकायत आ रही हैं। चार दिन बाद वह खुद थाने आकर  हालात देखेंगे। इस दरम्यान रायबरेली के दरोगा का सर्विस पिस्टल न मिला तो पूरा थाना लापरवाही का अंजाम भुगतेगा इस पर पुलिस ने हादसे पर पहुचे लोगों का पता लगाया और एक महिला द्वारा दी जानकारी के आधार पर बुधवार को एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की इस बाबत जब इटौंजा स्पेक्टर अशोक कुमार पाण्डेय से बात की गई तो उन्होंने बताया की हम पूरी कोशिस कर रहे है सर्विस पिस्टल ढूढ़ने की।

Check Also

LNMU :: हिंदी विभाग में नवचयनित सहायक प्राध्यापकों को किया गया सम्मानित

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग …