Breaking News

कड़ाके की ठंड में बिना आवास 8 बच्चों के साथ एक मां, ठिठुरती जिंदगी जीने को मजबूर

चकरनगर (डॉ एस बी एस चौहान) : तहसील चकरनगर के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत अनैठा के मजरा गुपीया खार मैं एक गरीब महिला जिसका नाम कुसमा देवी पत्नी दीवान सिंह निषाद है, ने बताया अनैठा पंचायत के प्रधान से कई बार बोल चुकी हूं कि प्रधान जी मुझे आवास की अत्यंत आवश्यकता है और मुझे आवास दिला दीजिए लेकिन प्रधान ने एक न सुनी।

आज वह महिला कुसमा देवी ऐसी ठिठुरती ठंड में छप्पर के नीचे जीवन यापन कर रही है।

कुसमा देवी ने यह भी बताया कि मेरे पांच बेटियां हैं और दो लड़के हैं आखिर इन सबको कहां रखूं यह तो मैं ही जानती हूं कि मैं अपना जीवन कैसे इस छप्पर के नीचे काट रही हूं। देखा जाए तो ऐसे लोगों को वाकई जरूरत है आवास की। आखिर कौन है जिम्मेदार?

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …