Breaking News

औचक निरीक्षण में डीएम पहुंचे बेनीपुर अनुमंडलीय अस्पताल, दीदी की रसोई का भी किया अवलोकन

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : जिलाधिकारी दरभंगा डॉ0 त्यागराजन एस एम ने उप विकास आयुक्त तनय सुल्तानिया, सिविल सर्जन डॉ अनिल कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी बेनीपुर प्रदीप कुमार झा एवं अन्य संबंधित पदाधिकारियों के साथ बेनीपुर अनुमंडलीय अस्पताल का औचक निरीक्षण किया।

Didi ki Rasoi

निरीक्षण के क्रम में अनुमंडलीय अस्पताल, बेनीपुर में 5 अगस्त से संचालित दीदी की रसोई का अवलोकन किया वहां की स्वच्छता एवं कुशल प्रबंधन व्यवस्था को देखकर वे काफी प्रसन्न हुए तथा वहां उपस्थित स्थानीय पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी प्रकार के सरकारी कार्यक्रमों में अल्पाहार व भोजन की व्यवस्था दीदी की रसोई के माध्यम से ही की जाए। इससे जीविका दीदियों को स्वरोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। वहाँ उपस्थित जीविका दीदियों ने पौधा संरक्षण का प्रतीक गमले में लगे पौधे को जिलाधिकारी एवं उप विकास आयुक्त को बारी बारी से अर्पित किया।    

निरीक्षण के दौरान अस्पताल प्रबंधन व्यवस्था को लेकर उन्होंने उपाधीक्षक अनुमंडलीय अस्पताल बेनीपुर को ओ•पी•डी• में मरीजों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए। इसके अतिरिक्त अस्पताल में उपलब्ध विशेषज्ञ चिकित्सकों के अनुसार अलग-अलग ओ•पी•डी• रखने के निर्देश दिए । मसलन डेंटिस्ट के लिए अलग ओपीडी, हड्डी रोग के लिए अलग ओपीडी, गायकोनोलॉजी के लिए अलग ओपीडी इत्यादि।

अस्पताल की प्रबंधन व्यवस्था को देखकर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की उन्होंने कहा कि अस्पताल में अच्छी आधारभूत संरचना एवं पर्याप्त संख्या में चिकित्सकों के रहने के बावजूद अस्पताल की व्यवस्था संतोषजनक नहीं है। उल्लेखनीय है कि बेनीपुर अनुमंडलीय अस्पताल में  वर्तमान में 14 चिकित्सक पदस्थापित हैं। उन्होंने उपाधीक्षक को अस्पताल प्रबंधन में सुधार लाने की हिदायत दी। उन्होंने उपाधीक्षक को कहा कि कोरोना की तीसरी लहर आने वाली है। इसलिए तीसरी लहर से निपटने के लिए डेडिकेटेड कोविड वार्ड के सभी बेड नव संस्थापित ऑक्सीजन प्लांट से ऑक्सीजन आपूर्ति हेतु पाइप लाइन लगवा लें।   

जिलाधिकारी द्वारा बिरौल अनुमंडल के विभिन्न निर्माण कार्य स्थलों का निरीक्षण किया गया। जिनमेबिरौल अनुमंडल में जेल के लिए प्रस्तावित भूमि का, बिरौल व्यवहार न्यायालय के लिए भवन निर्माण कार्य का तथा व्यवहार न्यायालय के लिए आवासीय परिसर के लिए प्रस्तावित भूमि का, बिरौल अनुमंडल कार्यालय के लिए भवन निर्माण स्थल का एवं महिला आईटीआई के लिए बन रहे भवन का निरीक्षण किया गया।  

जिलाधिकारी द्वारा बाढ़ प्रभावित परिवारों के लिए मध्य विद्यालय मसानखोन में चल रहे सामुदायिक रसोई का निरीक्षण किया गया तथा वहाँ के रसोइयों को आवश्यक निर्देश दिए गए। इसके उपरांत उन्होंने बिरौल अनुमंडल के बाढ़ प्रभावित अंचलों के अंचलाधिकारी से बाढ़ की स्थिति तथा बाढ़ राहत कार्य का जायजा लिया तथा बाढ़ प्रभावित परिवारों के बीच तेजी से राहत कार्य चलाते रहने के निर्देश दिए।

भ्रमण के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी बिरौल, संबंधित निर्माण विभाग के पदाधिकारी व अभियंता, संबंधित अंचलाधिकारी व प्रखंड विकास पदाधिकारी उपस्थित थे।

Shubhkamana

Check Also

विश्व दिव्यांगता दिवस की पूर्व संध्या पर पुअर होम दरभंगा में कार्यक्रम आयोजित

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट दरभंगा : राष्ट्रवादी सोच पर आधारित सक्षम संस्था के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *