Breaking News

एक्टिव मोड में दरभंगा डीएम, कोषांगों का गठन कर चुनाव कार्य शुरू

दरभंगा : समाहरणालय अवस्थित अम्बेदकर सभागार में आगामी बिहार विधान सभा आम निर्वाचन, 2020 की तैयारी को लेकर जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम. की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई।

बैठक को सम्बोधित करते हुए जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि चुनाव की तैयारी के लिए सभी कोषांग के वरीय पदाधिकारी एवं नोडल पदाधिकारी अपने-अपने कोषांग का कार्य प्रारंभ कर दें। उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा कोविड-19 के मद्देनजर चुनाव कराने हेतु विस्तृत मार्गदर्शिका जारी की गयी है। सभी नोडल पदाधिकारी एवं वरीय पदाधिकारी इस मार्गदर्शिका का अच्छी तरह से अध्ययन कर लें। क्योंकि इस बार का चुनाव अन्य बार के चुनावों से भिन्न होगा।

कोविड-19 से सुरक्षा व बचाव के लिए किन-किन प्रक्रियाओं एवं वस्तुओं का प्रयोग करना है, उससे भलीभांति परिचित होना होगा। मतगणना के लिए भी जारी निर्देश में एक मतगणना कक्ष में अधिकतम 07 टेबुल लगाने के निर्देश दिए गए हैं। इस बार मतदान केन्द्रों की संख्या भी बढ़ गई है। इसलिए प्रत्येक विधान सभा के मतगणना के लिए कम से कम 03 या 04 मतगणना कक्ष बनाने होंगे।

उन्होंने सभी निर्वाची पदाधिकारी (आर.ओ.) को इसकी योजना बना लेने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जगह कम पड़ने की स्थिति में बिरौल एवं बेनीपुर विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र की मतगणना बेनीपुर में ही कराने की योजना बनाई जा सकती है। उन्होंने अनुमण्डल पदाधिकारी, बेनीपुर को इसकी योजना बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बाजार समिति में 20 हॉल मौजूद है, जिनमें से बज्रगृह के लिए भी हॉल की आवश्यकता होती है। अतिरिक्त मतगणना केन्द्र के लिए दरभंगा अभियंत्रण कॉलेज के प्रशासनिक भवन को देखा गया है। सभी निर्वाची पदाधिकारी को भी उक्त स्थल देख लेने का निर्देश दिया गया।
उन्होंने कहा कि कोविड पॉजिटिव भी मतदान करने आएंगे। उस दौरान सभी मतदान कर्मी को पी.पी.ई. किट्स में रहना होगा। इसलिए सभी निर्वाची पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के कन्टेनमेंट जोन एवं पॉजिटिव मरीजों के संबंध में जानकारी लेते रहें तथा उनसे कब मतदान कराया जाएगा, इसकी भी योजना बना लेंगे।

उन्होंने कहा कि मतदान केन्द्रों की संख्या बढ़ गई है, इसलिए महिला कर्मियों को भी मतदान कार्य में लगाना होगा। सभी निर्वाची पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के वैसे मतदान केन्द्रों को चिन्ह्ति कर लें, जहाँ महिला मतदान कर्मियों को लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिग को मेंटेन रखते हुए मतदान कर्मियों को प्रशिक्षण देने हेतु भी योजना बनानी होगी और यह जिम्मेवारी प्रशिक्षण कोषांग की है। इसलिए प्रशिक्षण कोषांग के नोडल पदाधिकारी इसकी योजना बना लें।
उन्होंने कहा कि सभी प्रवासी मजदूरों का भी निर्वाचक सूची में नाम दर्ज करवाना है। संबंधित निर्वाची पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में इसे सुनिश्चित करवा लें।
उन्होंने कहा है कि निर्वाचन आयोग के अनुसार संविदा कर्मियों को चुनाव कार्य में लगाया जाएगा, लेकिन मॉइक्रो ऑब्जर्वर, पीठासीन पदाधिकारी एवं दण्डाधिकारी के रूप में उनकी नियुक्ति नहीं की जाएगी, इसलिए उनका डाटा बेस अलग से बना लिया जाए।
चुनाव कार्य एवं चुनाव प्रचार के लिए भी जारी मार्गदर्शिका के अनुसार अधिसंख्य में मैदान की जरूरत पड़ेगी, इसलिए सभी निर्वाची पदाधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के बड़े-बड़े मैदानों को उसकी क्षमता का आकलन करते हुए चिन्ह्ति कर लें। जारी मार्गदर्शिका के अनुसार 01 व्यक्ति के लिए 03 फीट की रेडियस में जगह होनी चाहिए। सर्वप्रथम चुनाव कार्य हेतु मैदान चिन्हित कर लिया जाए।

उन्होंने कहा कि दरभंगा में 99 ऐसे नये मतदान केन्द्र हैं, जो मूल मतदान केन्द्र से अलग बनाये गए हैं। उन मतदान केन्द्रों के लिए बी.एल.ओ. की नियुक्ति कर ली जाए। इसके उपरांत बारी बारी से सभी कोषांगो के नोडल पदाधिकारी एवं वरीय पदाधिकारी के नाम बताया गया।

बैठक में अपर समाहर्त्ता श्री विभूति रंजन चौधरी, उप विकास आयुक्त डॉ. कारी प्रसाद महतो, जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी श्री राजीव रंजन प्रभाकर, जिला आपूर्त्ति पदाधिकारी श्री अजय कुमार, अनुमण्डल पदाधिकारी सदर श्री राकेश कुमार गुप्ता, उप निदेशक जन सम्पर्क श्री नागेन्द्र कुमार गुप्ता, उप निर्वाचन पदाधिकारी श्री पुष्कर कुमार, वरीय कोषागार पदाधिकारी श्री नील कमल एवं सभी कोषांग के नोडल पदाधिकारी उपस्थित थे।

Check Also

बारिश-पानी की बौछार फिर भी जोरदार मतदान, मनीगाछी में 54% तो तारडीह में 55% वोटिंग

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट (दरभंगा) : तारडीह एवं मनीगाछी प्रखण्ड के विभिन्न मतदान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *