दरभंगा : मिथिलांचल में शीतलहर से जनजीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त।

4

2015_11largeimg219_nov_2015_072305630दरभंगा : मिथिलांचल में पांच दिनों से पछिया हवा से बढ़ी ठंड दिन भर गिरता रहा पाला, स्कूली बच्चें तैयार होकर घर से निकले लेकिन हालत काफी खराब रही। सुबह से ही घने कोहरे के कारण रास्ता भी नहीं दिख रहा था, 10 बजे के करीब धुंध कुछ कम हुआ, लेकिन ठंड में कमी नहीं आई। विशेषकर रोज कमाने खाने वाले की परेशानी बढ़ गई है। ठंड से बचने के लिए लोग आग का सहारा ले रहे है, चौक-चौहारों पर निजी स्तर से अलाव जलाकर लोगों को कुछ राहत मिल जाती है। इन जगहों पर राहगीर व मजदूर वर्ग के लोग हाथ सेकते नजर आये। वैसे इस शीतलहर में ठंड के कारण गरीब तबके के लोगों को काफी परेशानी होती है खासकर रिक्सा वाले और ठेला चालक इस ठंड में भी रोजी रोटी के लिए जान लगाये रहते है। दरभंगा जंक्शन, कादिराबाद बस स्टैंड, लहेरियासराय स्टैंड, डीएमसीएच आदि स्थानों पर इस शीतलहरी में प्रशासन की ओर से शहरी क्षेत्र में अलाव का प्रबंध नहीं किया गया है।