Breaking News

“बजट से साहित्यकारों को उम्मीदें” विषय पर हुई विचार गोष्ठी।

बदांयू।भारतीय हिन्दी सेवी पंचायत के तत्वावधान में ” बजट से साहित्यकारों को उम्मीदें ” विषय पर एक विचार गोष्ठी का आयोजन  देव कैफे स्थित शिविर कार्यालय पर किया गया।
गोष्ठी में विचार व्यक्त करते हुए पंचायत के अध्यक्ष हरि प्रताप सिंह राठोड़ एडवोकेट ने कहा कि देश के निर्माण में साहित्यकारों की बहुत बड़ी भूमिका रही है।

साहित्यकारों के कारण सामाजिक परिवर्तन हुए हैं। फिर भी साहित्यकार उपेक्षा के शिकार हैं। बड़ी संख्या में साहित्यकार स्वस्थ साहित्य के स्रजन में लगे हुए हैं। किन्तु उनके साहित्य के प्रकाशन हेतु कोई नीति नहीं बनाई गई और न ही  जनपद मुख्यालयों पर साहित्यकारों के बैठने की कोई व्यवस्था है। साहित्यकारों से सम्बन्धित मूलभूत समस्याओं को लेकर शीघ्र ही राष्ट्रपति को सम्बोधित मांगपत्र जिलाधिकारी बदायूं के माध्यम से प्रेषित किया जायेगा।


गोष्ठी में प्रमुख रूप से शैलेन्द्र मिश्रा ,अचिन मासूम, अंकित कुमार, वासुदेव मिश्रा, षटवदन शंखधार,सीमा चौहान,ललितेश कुमार , राजवीर तरंग , सरिता चौहान, अखिलेश शर्मा, सुनील कुमार व अखिलेश सिंह आदि उपस्थित रहे।

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …