प्रत्याशी शोएब अहमद खान का मैनिफेस्टो, गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा पहली प्राथमिकता

52
देखें वीडियो भी…

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की रिपोर्ट : दरभंगा शहरी विधानसभा में आगामी 7 नवंबर को तीसरे चरण में मतदान होना है। विधानसभा चुनाव को लेकर लगभग सभी पार्टियों ने उम्मीदवार घोषित कर दिया है। वाजिब अधिकार पार्टी से शोएब अहमद खान दरभंगा शहरी विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार हैं जिन्होंने आज गुरुवार को प्रेसवार्ता कर अपने चुनावी घोषणा से शहरी क्षेत्र के मतदाताओं को रूबरू करवाया। गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा उनकी पहली प्राथमिकता होगी।

दरभंगा शहरी विधानसभा के आम मतदाताओं से प्रत्याशी शोएब अहमद खान ने कहा कि अगर हमारी सरकार बनती है तो शिक्षा के माध्यम से सामाजिक बुराईयों को दूर करना हमारा पहला कर्तव्य होगा ।

शहरी विधानसभा प्रत्याशी शोएब अहमद खान

आज अगर हमारा समाज और परिवेश दूषित हो रहा है तो इसका जिम्मेदार पिछले चुने गए नेता एवं संबंधित राजनीतिक गतिविधियां हैं । ये लोग आम जनता की आवश्यकता को नजरअंदाज करते हुए अपनी स्थिति सुदृढ़ करने में लगे हैं । शिक्षा ही एक ऐसा मंत्र है जिसके माध्यम से सामाजिक अस्तित्व को बचाया जा सकता है एवं समाज को नया रूप दिया जा सकता है । इस चुनाव में जनता का समर्थन रहा तो सभी असामाजिक कुरीतियों को दूर करना हमारा लक्ष्य होगा।

वाजिब अधिकार पार्टी

उन्होंने कहा कि शिक्षा और शिक्षक की स्थिति अगर सुदृढ़ होगी तो एक अच्छा और सुदृढ़ समाज बनेगा और देश का नाम रोशन होगा । आज शिक्षकों की हालत दयनीय है वर्तमान सरकार ने इनकी समस्याओं को नजरअंदाज किया है, हमारी सरकार इन शिक्षकों को मान सम्मान के साथ उनके आर्थिक स्थिति को सुदृढ़ करने के लिए वचनबद्ध होगी। गुणवत्तापूर्ण शिक्षा ही हमारा पहली प्राथमिकता होगी ।

शोएब अहमद खान की प्रेस-वार्ता

उन्होंने मीडिया के माध्यम से मतदाताओं तक अपनी मैनिफेस्टो की प्रमुख बातों पर बताया कि किसानों को वाजिब हक एवं अधिकार, बिजली दरों में कटौती, दरभंगा शहरी क्षेत्र में जल जमाव की समस्या से निदान, चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ एवं उत्कृष्ट बनाना, मिथिलांचल के धरोहर को पर्यटक स्थल के रूप में परिवर्तन, दरभंगा शहर को मास्टर प्लान के अंतर्गत स्मार्ट सिटी बनाना, बाढ़ के समस्या से स्थाई निदान, आपदा की स्थिति में शिक्षकों एवं अभिभावकों को विशेष मदद, शहर में शांति एवं सद्भाव पूर्ण जीवन व्यवस्था हेतु उचित कदम हमारी प्राथमिकता होगी।