Breaking News

28 आईएएस अधिकारियों की प्रोन्नति को मंजूरी मुख्य सचिव की यहां हुई बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी

राज प्रताप सिंह
लखनऊ ब्यूरो। प्रदेश सरकार ने 28 आईएएस अधिकारियों को नए साल पर प्रोन्नति का तोहफा दे दिया है। मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में होने वाली विभागीय प्रोन्नति बैठक में इस प्रस्ताव पर मुहर लग गई। अब एक जनवरी को इससे संबंधित औपचारिक आदेश जारी होंगे।
नियुक्ति एवं कार्मिक विभाग के मुताबिक सोमवार को 1995 बैच के आईएएस अफसरों को प्रमुख सचिव, 2004 बैच के अफसरों को सचिव और 2007 बैच के अफसरों को सिलेक्शन ग्रेड दिए जाने की मंजूरी दे दी गई। इससे पहले 2011 और 2016 बैच के अफसरों की प्रोन्नति के लिए डीपीसी पहले ही हो चुकी है। उनके प्रमोशन का आदेश भी 1 जनवरी को जारी होगा। इन अफसरों की प्रोन्नति से कई विभागों में दो दो प्रमुख सचिव हो जाएंगे। मसलन मुख्यमंत्री कार्यालय में एसपी गोयल पहले से मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव हैं। अब संजय प्रसाद भी सचिव से प्रमुख सचिव हो जाएंगे।
यह अफसर सचिव से बनेंगे प्रमुख सचिव
1995 बैच के 11 आईएएस अफसरों में आशीष कुमार गोयल, भुवनेश कुमार, मृत्युंजय कुमार नारायण, संतोष कुमार यादव, मोहम्मद मुस्तफा, आमोद कुमार, संजय प्रसाद, अमृत अभिजात, आर रमेश कुमार, के रवीन्द्र नायक, मुकेश कुमार मेश्राम शामिल हैं। इनमें मृत्युंजय कुमार नारायण, मोहम्मद मुस्तफा, अमृत अभिजात व आर रमेश कुमार केंद्र में तैनात हैं।
यह अफसर बनेगे सचिव
2004 बैच के 8 आईएएस अफसरों की सचिव में प्रोन्नति को मंजूरी मिली है। इनमें इसमें अनामिका सिंह, रविकुमार एनजी, डॉ. रोशन जैकब, विजय विश्वास पंत, डॉ. राजशेखर, गौरव दयाल, डॉ. बलकार सिंह, वीरेन्द्र कुमार सिंह शामिल हैं।
इन्हें मिलेगा सेलेक्शन ग्रेड
2007 बैच के 9 अफसरों को सिलेक्शन ग्रेड मिलेगा। इनमें शीतल वर्मा, आलोक तिवारी, सुहास एलवाई, अभय, चैत्रा वी, नवीन कुमार जीएस,डॉ. मुत्थुकुमारस्वामी बी., प्रभु नारायण सिंह, डॉ. आदर्श सिंह शामिल हैं।

महिला शिक्षामित्रों को मिलेगा 6 माह का मातृत्व अवकाश
राज प्रताप सिंह
लखनऊ ब्यूरो।प्रदेश सरकार ने महिला शिक्षामित्रों, महिला अंशकालिक अनुदेशकों और कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में संविदा पर कार्यरत महिला शिक्षिकाओं की बड़ी मांग पूरी कर दी है। उन्हें मानदेय के साथ छह माह का मातृत्व अवकाश देने का फैसला किया गया है। सोमवार को इस संबंध में शासनदेश जारी कर दिया गया।
अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा रेणुका कुमार की तरफ से जारी इस शासनादेश में छह माह (180 दिन) के मानदेय सहित मातृत्व अवकाश मंजूर किए जाने की जानकारी दी गई है। महिला शिक्षामित्रों को मातृत्व (प्रसूति) अवकाश दिए जाने की मांग लंबे समय से की जा रही थी। इस शासनादेश से लगभग 70-80 हजार महिला शिक्षामित्रों को लाभ होगा। प्रदेश के कुल 1.58 लाख शिक्षामित्रों में से 60 फीसदी महिलाएं हैं। इसी तरह महिला अंशकालिक अनुदेशकों और कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में संविदा पर कार्यरत महिला शिक्षिकाओं को भी इसका लाभ मिलेगा। अभी तक उन्हें बिना मानदेय के छुट्टी मिलती थी। आदर्श शिक्षामित्र वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष जितेन्द्र शाही ने इस फैसले के लिए प्रदेश सरकार को धन्यवाद दिया है।
अभी यह थी व्यवस्था
महिला शिक्षामित्रों को अभी तक तीन महीने का प्रसूति अवकाश मिलता था, लेकिन इसमें भी शर्त थी। महिला शिक्षामित्र के परिवार के ही इंटर पास किसी व्यक्ति को ग्राम शिक्षा समिति द्वारा प्रस्ताव पास करके विद्यालय में पढ़ाना पड़ता था। यदि परिवार में कोई नहीं मिलता था तो मानदेय की कटौती हो जाती थी। नए शासनादेश ने अब उन्हें नियमित शिक्षकों की तरह ही मातृत्व अवकाश मिलेगा।

छह पुलिस उपाधीक्षकों के तबादले
राज प्रताप सिंह
लखनऊ ब्यूरो।डीजीपी ओपी सिंह ने सोमवार को प्रांतीय पुलिस सेवा के पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) स्तर के छह अफसरों का तबादला कर दिया।
एडीजी प्रशासन पीसी मीना की तरफ से जारी आदेश के अनुसार 26वीं वाहिनी पीएसी गोरखपुर में सहायक सेनानायक पद पर तैनात पंचम लाल को डीएसपी देवरिया, डीएसपी संतकबीरनगर संदीप कुमार वर्मा को डीएसपी कुशीनगर, पीटीएस उन्नाव के डीएसपी राधा रमण सिंह को डीएसपी बलरामपुर, डीएसपी बलरामपुर करमवीर सिंह को डीएसपी अलीगढ़, पीटीसी मुरादाबाद के डीएसपी शकील अहमद को डीएसपी मुजफ्फरनगर तथा ईओडब्ल्यू वाराणसी के डीएसपी रोहित यादव को डीएसपी बांदा के पद पर स्थानान्तरित किया गया है।

भीषण ठंड से कांपा मैदानी क्षेत्र

नए साल की शुरुआत शीतलहर से ही होगी
राज प्रताप सिंह
लखनऊ ब्यूरो। हाड़ कंपकपां देने वाली ठंड से अभी कुछ दिन और निजात मिलने की सम्भावना नहीं के बराबर है। अलबत्ता पश्चिमी विक्षोभ के कारण समूचे उत्तर भारत में शीतलहर और कोहरे का प्रकोप और अधिक बढ़ने की आशंका है।
मौसम विशेषज्ञों की माने तो जम्मू एवं काश्मीर से लेकर हिमाचल एवं उत्तराखण्ड की ऊची पहाड़ियों अभी भी भीषण बर्फबारी जारी है। इससे देश के उत्तरी हिस्से की पहाड़ियां बर्फ से ढ़की हुई है जिसे छूती हुई मैदानी क्षेत्र में पहुंच रही पछुआ गलन और कंपकंपी ब़ढ़ा रही है। राजधानी स्थित आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश के न्यूनतम व अधिकतम तापमान में अभी दो दिनों तक लगातार गिरावट जारी रहेगी।
प्रदेश में रविवार की रात को सबसे कम तापमान सोनभद्र के चुर्क का रिकार्ड किया गया जहां का पारा 0.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जबकि मुजफ्फरनगर के पारा एक़ डिग्री रहा जो सामान्य से 12 डिग्री कम है। इसी प्रकार से कानपुर, आगरा, का तापमान भी दो डिग्री से नीचे दर्ज किया गया। मसलन कानपुर में 1.6 डिग्री और आगरा में 1.9 डिग्री न्यूनतम तापमान रहा। लखनऊ में बीती रात का तापमान 2.3 डिग्री तापमान रिकार्ड किया गया जो सामान्य से 10 डिग्री कम है। मौसम विभाग की ओर से जारी पूर्वनुमान में कहा गया है कि पछुआ के कारण प्रदेश के कई भागों में तापमान में अप्रत्याशित गिरावट दर्ज की जा सकती है साथ ही कोहरे के प्रकोप बढ़ने की आशंक़ा है। कुछ जगहों पर बदली रह सकती है जहां छिटपुट बारिश के भी आसार हैं। आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि नए साल की शुरुआत शीतलहर से ही होगी। ऐसे में लोगों को नए साल के उमंग के लिए कहीं अधिक गर्म कपड़ों का सहारा लेना होगा।

सप्ताहभर में 48 नए स्थानों पर लगेंगे काम्पैक्टर
राज प्रताप सिंह
लखनऊ ब्यूरो।स्वच्छ सर्वेक्षण-2020 की तैयारी में नगर निगम जुट गया है। सड़क पर कहीं कूड़ा न दिखने पाए इसकी तैयारी शुरू हो गई है। शहर के 48 नए स्थानों पर काम्पैक्टर लगाने का फैसला हुआ है। यह काम सप्ताहभर में पूरा होना है। इसके बाद शहर में कुल 90 स्थानों पर काम्पैक्टर लगाने का पूरा हो जाएगा।
नगर आयुक्त डॉ. इन्द्रमणि त्रिपाठी ने सोमवार को खुले में पड़ रहे कूड़ा स्थलों के बारे में जानकारी ली। सुस्ती पर ईकोग्रीन के अधिकारियों को फटकार लगाई। बाद में मुख्य अभियंता राम नगीना त्रिपाठी ने अड़चनों की जानकारी ली। बताया गया कि कहीं बिजली का कनेक्शन न होने से तो कहीं स्थानीय विवाद के कारण काम्पैक्टर नहीं लग पा रहे हैं। मुख्य अभियंता ने कहा कि काम्पैक्टर लगते ही बिजली कनेक्शन कराया जाएगा।
यहां लगेंगे काम्पैक्टर
जोन एक-अमीनाबाद जनाना पार्क, गोलागंज गुलाब सिनेमा के पास, कैसरबाग में बीबी बक्शी के घर के सामने, रिवर बैंक कालोनी, मूंगफली मंडी, जियामऊ द्वितीय। जोन दो-मेंहदी बेग खेड़ा, सुभाष मार्ग ट्रांसफार्मर के पास, गुडशेड रोड ट्रांसफार्मर के पास। जोन तीन-ब्रेड फैक्ट्री के पास, अलीगंज कालोनी कब्रिस्तान के पास, अलीगंज सेक्टर-डी में लोक सेवा आयोग के पीछे, गौशाला के अंदर,अर्जुन पार्क के पास, डुडौली गांव सामुदायिक शौचालय के पास, पक्के पुल के पास, शंकरनगर पानी की टंकी के पास, ईकोग्रीन प्लांट कैम्पस, जनगणना कार्यालय के पास। जोन चार-विनीत खण्ड पांच में वेंडिंग जोन, सब्जी मंडी रेलवे लाइन, भरवारा गांव, कठौता झील के पास, रिसहा का पुराना गावं के पीछे, सूर्या लेक अपार्टमेंट के पीछे, मल्हौर रोड, रामलीला मैदान के पास, विपुल खण्ड छह में जंगल रोड, नेहरू इंक्लेव, कर्पूरी ठाकुर चौराहा। जोन पांच-सीपेट चौराहा के पास, मानस नगर रोड, कृष्णानगर पानी की टंकी के पास, विक्रमनगर पुल, टेढ़ी पुलिया, होमगार्ड मुख्यालय के सामने, रामनगर रेलवे ग्राउंड। जोन छह-कैम्पवेल रोड अम्बेडकर पार्क के पास। जोन सात-गोल चोराहा, कैलाश कुंज, अरविंदो पार्क, स्वर्ण जयंती पार्क के पास, मिनी स्टेडियम के सामने, बहादुरपुर मैदान, बाल बिहार रोड, द्वारिका पुरी मोड़, आजाद मार्केट, तकरोही कैटिल कालोनी के पास। जोन आठ-एडब्ल्यूएचओ कालोनी के पीछे।

ReplyReply allForward

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …