Breaking News

लापरवाह सिंचाई विभाग के कर्मचारियों के चलते अब तक नहीं हुआ नहर पुलों का निर्माण


प्रमोद राही, नगराम,लखनऊ। सिंचाई विभाग के कर्मचारियों के चलते अभी तक नगराम से गुजरी लालगंज रजबहा पर क्षतिग्रस्त पुलों का निर्माण नहीं हो पाया है नगराम कटरा के पास नहर पर बनी क्षतिग्रस्त पुलिया के संबंध में कस्बा वासियों ने कई बार नहर विभाग को लिखित सूचना दी लेकिन नहर विभाग कुंभकर्णी नींद सोया हुआ है अभी तक उसके कानों में जूं तक नहीं रेंगी है नहर में पानी आ जाने के कारण नहर का पानी किसानों द्वारा बनाई गई स्वचालित पुलिया के ऊपर से बह रहा है जिससे कस्बा वासियों किसानों स्कूली बच्चों व आसपास के रहने वाले लोगों को आने जाने में काफी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है नगराम कटरा चौराहे के पास लालगंज रजबहा छोटी माइनर पर बनी पुलिया सिंचाई विभाग द्वारा 4 साल पहले तोड़ दिया गया जिसका अभी तक नहीं हो सका निर्माण सिंचाई विभाग द्वारा जर्जर पुलिया तोड़े जाने के बाद नगराम वासियों ने कई बार इसकी लिखित शिकायत सिंचाई विभाग को दी लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला कुछ दिन पहले सिंचाई विभाग के अधिकारी से बात हुई थी तो उन्होंने बताया है लालगंज रजबहा की टूटी पुलों का स्टेटमेंट पास हो गया है अक्टूबर महीने तक इनका निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा जिसके बाद भी पुलों का कोई निर्माण कार्य शुरू नहीं किया गया जिससे आसपास रहने वाले किसानों व नगर वासियों में रोष व्याप्त है

जिसके बाद नहर के उस पार खेतों वा घरों तक जाने के लिए किसानों ने ढोले पत्थर डालकर स्वचालित आने जाने का प्रबंध किया इस पुलिया से आने जाने वाले राहगीरों व स्कूली बच्चों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है नहर के उस पार जय मां दुर्गे मेडिकल इंस्टिट्यूट है जिससे पढ़ने जाने वाले छात्रों व मरीजों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता है वा किसानों को कृषि यंत्र  ले जाने में बहुत ही कठिनाई का सामना करना पड़ता है नहर में पानी के साथ कचरा व मृत मवेशी आकर फंस जाते हैं जोकि किसानों द्वारा नहर पर बनाए गए रास्ते के उस पार बह कर नहीं जा पाते जिससे यहीं पर फंस जाते हैं जिसकी गन्ध से यहां के आसपास रहने वाले लोग मे संक्रमित बीमारी फैलने का खतरा बना रहता हैयहां के आसपास रहने वाले नगरवासी दिनेश कुमार रमेश पान भंडार यशपाल डॉक्टर मदन दिनेश गौतम राम सिंह कैलाश चंद्र कनौजिया ने बताया इस पुलिया से आने जाने में कई लोग गिरकर चोटिल भी हो चुके हैं कई लोग अपने वाहन लेकर भी इस नहर में गिर चुके हैं इस बारे में जब सिंचाई विभाग के एस डी ओ राजीव रंजन से बात की गई तो उन्होंने कहां की जी ई आई साहब अब तक स्टीमेट बनाकर नहीं दिए हैं इसी कारण लालगंज रजबहा के पुलों का निर्माण नहीं हो पाया है एसडीओ ने बताया अभी फिलहाल सफाई करवा दी जा रही है और जी ई आई उपेंद्र साहू को क्षतिग्रस्त पुलों का स्टीमेट बनाने के लिए निर्देशित कर दिया गया है जल्द ही लालगंज रजबहा के क्षतिग्रस्त पुलों का निर्माण किया जाएगा

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …