Breaking News

सिटी एसपी से न्याय की लगाई गुहार, कमतौल थाना प्रभारी पर लापरवाही का आरोप

डेस्क : दरभंगा जिले के कमतौल थाना क्षेत्र के ग्राम रजौन असली के एक परिजन ने सिटी एसपी योगेंद्र कुमार को आवेदन देकर ये शिकायत किया है कि उनकी 18 वर्षीय पुत्री के साथ गांव के ही राधे कुमार पंडित पिता विनोद पंडित ने 27 अगस्त को प्रातः 3 बजे उसके घर मे घुसकर पहले तो दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया और जब पकड़ा गया तो कानून से बचने के लिए आरोपी अपने परिवार के सहयोग से लड़की को जबरन उठाकर ले गया और फिर मंदिर में ले जाकर जबरन शादी कर लिया।

वहीं कमतौल थाना प्रभारी पर आरोप लगाते हुए पीड़िता की मां ने कहा कि कमतौल थाना को भी सूचना दी गई लेकिन थाने से घटना स्थल पर कोई नहीं आया। अगर समय पर थाना पहुंच जाता तो आज मेरी बेटी मेरे साथ होती, वो लोग जबरन उठाकर नहीं ले जाते। अगर थाना प्रभारी उचित कार्रवाई किए होते तो कोरोना काल में गांव से इतना दूर शहर आकर सिटी एसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाने की नौबत ही नहीं आती।

पीड़ित परिजन का आरोप है कि 27 अगस्त 2020 को 3 बजे रात्रि में जब हम सभी सोए हुए थे तभी मेरी पुत्री के कमरे से पुत्री के चीखने चिल्लाने की आवाज़ आई, जिसे सुनकर मैं कमरे की तरफ़ भाग कर गई तो देखा के राधे कुमार मेरी पुत्री के साथ दुष्कर्म कर रहा है। तभी मैं किसी तरह आरोपी राधे कुमार को पकड़ कर चिल्लाने लगी, मेरी आवाज़ सुनकर मेरे पति और आस पड़ोस के लोग वहाँ पहुंच गए और राधे कुमार को पकड़कर एक कमरे में बन्द कर समाज के लोगों को इसकी सूचना दिया साथ ही कमतौल थाना को भी सूचना दी गई लेकिन थाने से घटना स्थल पर कोई नहीं आया।

परिजन का कहना है कि गांव में पंडित समाज बहुतायात होने के कारण समाज मे ही मामले को निपटाने का दबाव मुझ पर बनाया जाने लगा, लेकिन मेरे इनकार पर आरोपी परिवार के सदस्यों ने मिलकर मुझ पर ही ये झूठा आरोप मढ़ दिया कि तुमने मेरे लड़का को बंधक बनाकर रखा है, तुम लोगों को जान से मार देंगे। आरोपी के परिजन मेरी पुत्री का बाल पकड़कर उसे मारने पीटने लगे। जब मैं और मेरे पति अपनी पुत्री को बचाने गए तो वे लोग हम दोनों को भी मारने पीटने लगे, समाज के लोगों द्वारा हमलोगों को बचाया गया। जिसके बाद आरोपी राधे कुमार पंडित को वे लोग वहां से छुड़ाकर ले गए और बोले के तुम्हारी बेटी के साथ जो दुष्कर्म किया गया उसका हर्जाना तुमलोगों तक पहुंच जाएगा।

लेकिन जब हमलोगों ने उसकी बात मानने से इनकार कर दिया तो वे लोग मेरी पुत्री एंव मेरे पति को जबरन चार पहिया वाहन में उठाकर सीतामढ़ी ज़िले के पुपरी बाज़ार स्थित एक मंदिर में ले जाकर मेरे पति और पुत्री को जान से मारने का भय दिखाकर जबरन मेरी बेटी की शादी आरोपी राधे कुमार पंडित से करा दिया गया। और मेरे पति को यह धमकी दिया कि अगर केस करोगे तो तुम्हारी बेटी को जान से मार देंगे। इसी भय से हमलोग मुकदमा नही कर रहे थे। परन्तु वे सब मेरी बेटी के साथ बुरी तरह से मारपीट करता है और जान मारने का प्रयोजन बना रहा है। वहीं सिटी एसपी योगेंद्र कुमार ने मामले की गम्भीरता को देखते हुए महिला थाना को जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

Check Also

दरभंगा कंकाली मंदिर के पुजारी की गोली मारकर हत्या, 3 अपराधियों की आक्रोशित लोगों ने की पिटाई एक की मौत 2 की हालत गंभीर एक भक्त भी गोली लगने से ज़ख्मी

राजू सिंह की रिपोर्ट दरभंगा : दुर्गापूजा के महानवमी की अहले सुबह दरभंगा में अपराधियों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *