Breaking News

34 पीडीएस डीलरों पर गिरी गाज 17 पर एफआईआर, बहेड़ी बीएसओ होंगे निलंबित

दरभंगा : जिलाधिकारी डॉ त्यागराजन एस.एम के द्वारा 13 एवं 14 अगस्त को सभी प्रखंडों के वरीय पदाधिकारियों के माध्यम से पी.डी.एस (जन वितरण प्रणाली) की दुकानों के सघन जांच कराई गई थी।

जांच में जिन जन वितरण प्रणाली विक्रेता के विरुद्ध शिकायत एवं अनियमितता पाई गई। उनके अनुज्ञप्ति रद्द करने एवं उनके प्राथमिकी दर्ज कराने, स्पस्टीकरण मांगने का आदेश संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी को जारी किया गया है।

सदर दरभंगा के जन वितरण प्रणाली दुकानदार शत्रुघ्न कुमार यादव, रोहित पासवान, बहेड़ी के राम प्रीत सिंह, तारडीह के राम खेलावन झा, नरेश कुमार साफी, व सिंहवाड़ा उत्तरी के चंद्र देव ठाकुर, ललिता देवी, सिंहवाड़ा दक्षिणी के राजू कुमार, बहेड़ी के जय भूषण कुमार सिंह , सुमिश्रा देवी, देवनंदन चौधरी वार्ड नंबर 12, अमरीश कुमार चौधरी, वीणा मुस्लिम स्वयं सहायता समूह, दिलावरपुर व ठाकुर स्वयं सहायता समूह, ममता देवी, जाले के पुष्पेंद्र कुमार, निर्मल कुमार, राजेंद्र प्रसाद गुप्ता व जुली कुमारी,बिरौल अनुमंडल के गौराबौराम प्रखंड के श्री राम पासवान, रंजीत कुमार झा, रमेश झा, दीपू कुमारी, कसरौर बेलवाड़ा, रसियारी पश्चिमी किरतपुर के अजय कुमार व रामचंद्र यादव कुशेश्वरस्थान पूर्वी के तृप्ति कुमारी, सुरेंद्र चौपाल, बिरौल के धर्मराज मंडल, शंकर कुमार झा, इंद्र नारायण झा(भवानीपुर), लक्ष्मीकांत यादव (कोर्थु पूर्वी), राजेंद्र झा, (कोर्थु पूर्वी) एवं बच्चा झा, बेनीपुर अनुमंडल के अलीनगर प्रखंड के जूली खातून के विरुद्ध कार्रवाई करने के आदेश दिए गए।

उल्लेखनीय है कि 17 दुकानों को निलंबन एवं रद्द करने की कार्रवाई करने तथा शेष जन वितरण प्रणाली की दुकानों के विक्रेताओं से स्पष्टीकरण पूछने एवं कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं। वरीय पदाधिकारियों के द्वारा जाँच के क्रम में जन वितरण प्रणाली विक्रेताओं के विरुद्ध जो अनियमितताएं मिली हैं उनमें निर्धारित मूल्य से अत्यधिक मूल्य लेना, किरासन तेल का मूल्य 10 रुपये प्रति लीटर अधिक लेना, माप तौल का निबंधन समाप्त होना, ईपोस मशीन एवं स्टॉक पंजी में खाद्यान्न की मात्रा में अंतर पाया जाना, नियमानुसार पंजी का संधारण नहीं करना, भंडार सूचना पट्ट पर वास्तविक स्टॉक अंकित न करना, लाभुकों को कम वजन में राशन देना, कार्डधारियों की संख्या के हिसाब से राशन का वितरण नहीं होना शामिल हैं। इसके अतिरिक्त पदाधिकारियों द्वारा संबंधित जन वितरण प्रणाली विक्रेता के उपभोक्ताओं का बयान भी लिया गया है। जांच में शेष दुकानें सही पायी गयीं।

द्वारका प्रसाद शर्मा प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी बहेड़ी द्वारा आपूर्ति कार्यों में लगातार लापरवाही एवं अनियमितता बरतने के लिए उनके विरुद्ध निलंबन की कार्रवाई हेतु सचिव, खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग, बिहार सरकार को अनुशंसा की गई है।

Check Also

न्याय मार्च :: पत्रकारों को सुरक्षा मुहैया कराए सरकार, दरभंगा में पत्रकारों ने काला पट्टी बांधकर बेनीपट्टी के पत्रकार अविनाश की हत्या के खिलाफ निकाला कैंडल मार्च

विजय कुमार भारती की स्पेशल रिपोर्ट : आज जहां पूरा देश में राष्ट्रीय प्रेस दिवस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *