Breaking News

डीएमसीएच में पहली बार घुटनों की आर्थोस्कोपी सर्जरी 31 को, आडिटोरियम में मोनिटर पर दिखेगी लाइव सर्जरी

दरभंगा : डीएमसीएच के आर्थो विभाग से 31 जनवरी को पहली बार मरीजों के घुटनों का आर्थोस्कोपी सर्जरी दिखाई जायेगी. इसके लिये बाहर से चिकित्सकों की टीम बुलायी गयी है. मिथिलांचल आर्थो क्लब व डीएमसीएच आर्थो विभाग के संयुक्त तत्वावधान में 31 जनवरी को सुबह 8.30 बजे से इस कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है.

डीएमसीएच के आर्थो विभाग के वरीय चिकित्सक डॉ नन्द कुमार ने बताया कि पहली बार जिला मे व्यापक रूप से आर्थोस्कोपी सर्जरी को लेकर कार्याशाला का आयोजन किया जा रहा है. इस कार्यशाला के दौरान प्रख्यात चिकित्सक घुटनों व अन्य अंगों की आर्थोस्कोपी कर दिखायेंगे. इसके लिये पांच मरीजों को चिन्हित किया गया है. चिकित्सकों की टीम संबंधित मरीजों का लाइव सर्जरी करेंगे.

  • डीएमसीएच के आर्थो विभाग में 31 जनवरी को पहली बार मरीजों के घुटनों की होगी आर्थोस्कोपी सर्जरी
  • मिथिलांचल आर्थो क्लब व डीएमसीएच आर्थो विभाग के तत्वावधान चिकित्सकों की टीम करेगी मरीजों का सर्जरी
  • दरभंगा मेडिकल कॉलेज आडिटोरियम में मोनिटर पर दिखायी जायेगी लाइव सर्जरी

डॉ कुमार ने बताया कि अगले तीन से चार महीनों में आर्थोस्कोपी माध्यम से मरीजों का आपरेशन करने को लेकर कार्रवाई की जा रही है. जल्द ही यहां पहुंचने वाले मरीजों को यह सुविधा दी जा सकेगी. डॉ आरबी खेतान ने बताया कि इस आर्थोस्कोपी के तहत मरीजों के घुटनों व अन्य अंगों में कट नहीं लगाया जाता है. माइक्रोस्कोप के माध्यम से मरीजों के प्रभावित अंग के भीतर की स्थिति देखी जाती है. उसके बाद लेजर ट्रीटमेंट से उसका उपचार किया जाता है. उपचार के बाद मरीजों को विशेष परिस्थिति नहीं होने पर डिस्चार्ज कर दिया जाता है.

डॉ एस एन सरार्फ ने बताया कि जिला में कुछ अस्पतालों में इस तरह की सुविधा उपलब्ध है. लेकिन लोगों को इसकी जानकारी नहीं है. इस तरह के वर्कशॉप के आयोजन से लोगों में जागरूकता आयेगी. व्यापक रूप से विभिन्न अस्पतालों में आर्थोस्कोपी सर्जरी को लेकर चिकित्सक आगे आयेंगे.

Check Also

दरभंगा कमिश्नर के सचिव दुर्गानंद झा का विदाई समारोह, भेजे गए राज्य विवि सेवा आयोग

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की ब्यूरो रिपोर्ट : आयुक्त कार्यालय,दरभंगा के सभागार में आयुक्त के सचिव …