Breaking News

महिलाओं के खिलाफ अपराध की त्वरित सुनवाई के लिए 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित करेगी उत्तर प्रदेश सरकार

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और इसलिए महिलाओं पर होने वाले अपराधों की सुनवाई के लिए 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित करने जा रही है।  

लखनऊ ब्यूरो (राज प्रताप सिंह) : उत्तर प्रदेश विधानसभा में बुधवार को कानून-व्यवस्था पर उठाए गए विपक्ष के आरोपों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सपा व कांग्रेस पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी का अपराध से चोली-दामन का साथ है तो कांग्रेस शासनकाल में महिला नेता को तंदूर में जलाए जाने पर कांग्रेस को आड़े हाथों लिया। मुख्यमंत्री के बयान से नाराज़ सपा व कांग्रेस सदस्य वेल में उतर आए और जमकर नारेबाजी की। इसके चलते सदन की कार्यवाही गुरुवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित करनी पड़ी।

सपा मुखिया को जमकर घेरा

मुख्यमंत्री ने कहा कि चाहे महिलाओं की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन हो या फिर बदमाशों को उनकी ही भाषा में जवाब देने की सरकार की कार्रवाई होती है। तब-तब सपा के मुखिया को जरूर दर्द होता है। सपा को घेरते हुए कहा कि घोषित अपराधी मारा जाता है तो ये कैंडल मार्च निकालते हैं। अपराधियों पर कार्रवाई से सबसे ज्यादा समस्या सपा के विधायकों को होती है। पिछली सपा सरकार को निशाने पर लेते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मुजफ्फरनगर में इन्होने क्या किया ये हमको सीख देंगे। 

खुशी है कि भाजपा सदस्य की चिंता की

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हमारी सरकार के समय एक भी दंगा नहीं हुआ। उन्होंने  अपराध के आंकड़ों की साल 2016 और 2019 की तुलना करते हुए कहा कि हर प्रकार  के अपराध 2019 में कम हुए।  प्रदेश की कानून व्यवस्था सर्वोत्तम है। ये देश और दुनिया के लिए नजीर है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अपराध तो अपराध है अपराधी को हर हाल में सजा मिलनी चाहिए। मंगलवार को भाजपा विधायक नंदकिशोर गुर्जर के साथ देने वाले विपक्षी सदस्यों पर तंज कसते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा कि हमें खुशी है कि आप लोग भाजपा सदस्य की चिंता करते हो।   
उत्तर प्रदेश सरकार 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित करेगी मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के सदस्यों के विरोध स्वरूप काली पट्टी बांधने को सदन की अवमानना बताया और कहा कि ये अपने गिरेबान में झांके। इनकी ही सरकार में कांग्रेस के नेताओं ने दिल्ली में तंदूर में कांग्रेस नेत्री को जला दिया था। तंदूर कांड किया फिर सिखों का नरसंहार हुआ अब ये उन्हें ज्ञान बताएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार महिलाओं की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। इसीलिए सरकार महिलाओं पर होने वाले अपराधों के लिए 218 फास्ट ट्रैक कोर्ट स्थापित करने जा रही है।  

सीएम योगी बोले- बिजनौर कांड जैसी घटना हमें मंजूर नहींयोगी ने कहा कि दुष्कर्म के छह मामलों में हमने एक माह में सजा दिलाई। कांग्रेस के सदस्यों के काली पट्टी बांधकर सदन में आने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र की आड़ में अराजकता फैलाने की छूट किसी को नहीं दी जा सकती है। यह सदन किसी पार्टी का नहीं प्रदेश की 23 करोड़ जनता का है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार न्यायपालिका की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। हमने अदालतों की सुरक्षा के लिए न्यायपालिका को प्रस्ताव भेजा है। वहां से रजामंदी मिलते ही सरकार अदालतों की कड़ी सुरक्षा की कार्ययोजना को अमल में लाएगी। 

सीएम योगी ने कहा कि सरकार बिजनौर में अदालत में हुई घटनाओं को स्वीकार नहीं करेगी। दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करेगी। धारा-370 के लागू होने पर या राममंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद प्रदेश के किसी भी क्षेत्र में कोई घटना नहीं हुई। लोग कहते थे कि फैसला नहीं आना चाहिए। तभी हमने कहा था एक भी मच्छर नहीं मरेगा। केन्द्र की मोदी सरकार ने धारा 370 हटाकर डा. भीमराव आंबेडकर के सपने को साकार किया। हमने अन्य विपक्षी दलों की तरह डा. आंबेडकर के नाम को वोट बैंक के लिए इस्तेमाल नहीं किया।

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …