Breaking News

कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज, बढ़पुरा पुलिस पर हीला हवाली का लगाया आरोप

डॉ एस बी एस चौहान की स्पेशल रिपोर्ट (चकरनगर/इटावा) : बीते दिनों मीरा कॉलोनी भिंड निवासी रामकिशोर तिवारी के 20 वर्षीय बेटे विकास तिवारी का कुछ दिन पहले मोहल्ले के एक व्यक्ति से कहासुनी हो गई थी वही व्यक्ति ने भूरे तिवारी से शिकायत की थी कि विकास उनके घर के बाहर ज्यादा घूमता है बताया तो यह भी जा रहा है कि विकास का किसी प्रेमिका से प्रेम प्रसंग चल रहा था इस पर लड़की पक्ष ने कुछ लड़के पर दबाव बनाया जो कभी कभार आम बात होती है। इसके बाद भूरे ने अपने बेटे को भोपाल जाकर नौकरी करने के लिए कह दिया शुक्रवार को विकास सुबह करीब 11:00 बजे घर से भोपाल जाने के लिए निकला।

file photo

ग्वालियर में दोपहर 1:30 बजे उसकी ट्रेन थी लेकिन विकास के देरी से पहुंचने के कारण वह छूट गई इसके बाद विकास एक रात ग्वालियर में ही रुका दूसरे दिन शनिवार की रात करीब 8:00 बजे विकास का बैग भिंड इटावा रोड पर स्थित चंबल पुल पर उदी चौकी प्रभारी चिंतन कौशिक को मिला। बैग में ही उसका मोबाइल रखा था साथ ही एक पर्ची थी जिसमें लिखा था कि यह बैग भिंड मीरा कॉलोनी स्थित उसके घर पहुंचा दिया जाए साथ ही घर का नंबर भी लिखा था।

घटना के बाद पिता ने आरोप लगाया कि उनके बेटे की हत्या की गई है उसकी पीठ पर चोटों के निशान पाए गये, जबकि पुलिस का इस चोट के निशान पर मानना है कि जब युवक काफी ऊंचाई से चंबल में कूदा तो हो सकता उसके पीठ पर चोट के निशान आ गए हों। फिलहाल काफी जद्दोजहद के बाद जब राम किशोर तिवारी उर्फ भूरे तिवारी की एफ आई आर नहीं लिखी गई तो भूरे तिवारी ने दिनांक 6/8 /21 को 156 (3)CRPC के तहत एसीजेएम महोदय इटावा को प्रार्थना पत्र देकर प्रकीर्ण वाद दर्ज करा दिया था। जिसमें दो ज्ञात और एक अज्ञात नाम दर्ज किया गया था, जिस पर अदालत ने संज्ञान लेते हुए थाना बढ़पुरा को आदेशित किया जिस पर एफ आई आर नंबर 0104 दिनांक 9/10 /21 को धारा 302, 201,323, 504 व 506 में पंजीकृत की गई जिसकी विवेचना नवरत्न गौतम को दी गई। वादी मुकदमा भूरे तिवारी का आरोप है कि पुलिस इटावा हमारे मामले में कोई खास संज्ञान नहीं ले रही है और मामले में हीला हवाली करते हुए मुल्जिमों की गिरफ्तारी भी नहीं की जा रही है। वही पुलिस की माने तो उपरोक्त घटना हत्या नहीं बल्कि आत्महत्या है।

फिलहाल जो भी हो विवेचक मामले में संज्ञान लेकर उचित कार्यवाही यदि कर देते हैं तो पिता को कुछ ना कुछ न्याय मिलने के आसार नजर आने लगेंगे और वादी को विवेचना से संतुष्टि हो जाएगी। वादी मुकदमा ने अब आशा व्यक्त की है की प्रभारी निरीक्षक नवरत्न गौतम के हट जाने के बाद नवागंतुक थाना अध्यक्ष मुकेश कुमार से न्याय की उम्मीद जताई है।

Check Also

नवनिर्वाचित प्रखंड प्रमुख के शपथ ग्रहण में नहीं दिखे चर्चित स्थानीय नेता

ब्लाक प्रमुख चकरनगर के शपथ ग्रहण समारोह में स्थानीय नेता नदारद दिखे -नवनिर्वाचित ब्लाक प्रमुख …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *