Breaking News

संदिग्ध गतिविधियों से परेशान किसान नेता ने की सुरक्षा की मांग

लखनऊ (श्रीनिवास सिंह मोनू ) : किसानमंच के उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष देवेंद्र तिवारी उर्फ रिंकू ने बीते दिनों में अपने साथ हुई संदिग्ध घटनाओं से परेशान होकर शासन प्रशासन को उक्त घटनाओं से अवगत कराते हुए प्रमुख सचिव गृह से अपनी सुरक्षा की मांग की है। रिंकू के अनुसार अलग-अलग तारीखों में जब वह किसी विशेष कार्य से कहीं जा रहे थे तब उनकी गाड़ी यू पी 32 जे जेड 4227 का एक बिना नंबर की चार पहिया गाड़ी से पीछा हो रहा था। जोकि पूर्णतः संदिग्ध था। इसके अलावा उनके घर के आसपास भी संदिग्ध लग रहे अज्ञात लोगों को कई बार देखा गया है। श्री तिवारी के अनुसार प्रदेश में गो स्थलों की बदहाली को लेकर जो पीआईएल उनके द्वारा माननीय न्यायालय में दाखिल की गई है एवं माननीय न्यायालय द्वारा उस पीआईएल पर संज्ञान लेते हुए शासन व प्रशासन से जो जवाब मांगा गया है, उससे शासन व प्रशासन में बैठे पशु तस्करों के साथ गौशाला निर्माण से लेकर इसके संचालन, रखरखाव में जो सरकारी धन के बंदरबांट में शामिल लोग हैं शायद वह उनके निशाने पर आ गए हैं। 

पूरे प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा छुट्टा घूम रहे गोवंशों को लेकर जो गौशाला निर्माण की महत्वपूर्ण योजना बनाई गई थी वास्तव में उसको अमलीजामा पहनाने में ग्राम प्रधानों, सचिवों, खंड विकास अधिकारी से लेकर ऊपर तक के संबंधित अधिकारियों में सरकारी धन का जो बंदरबांट हुआ उसके चलते मुख्यमंत्री की महत्त्वकांछी गौशाला योजना को पलीता लग गया। जिसके चलते अभी तक सड़कों से लेकर किसानों के खेतों तक में छुट्टा गोवंशों की कोई कमी नहीं आई है। जब इस भयंकर व विकराल समस्या को उठाते हुए किसान मंच के प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र तिवारी रिंकू ने माननीय न्यायालय को अवगत कराते हुए एक पीआईएल दाखिल की व साथ ही प्रदेश के विभिन्न जिलों में बने गौशालाओं को जा-जा कर देखा तो उनके निर्माण, रखरखाव व संचालन में घोर अनियमितताएं मिली।

इस सर्वेक्षण में कई जगह देवेंद्र तिवारी को दबंग पशु माफियाओं व तस्करों के द्वारा कई बार मौके पर झड़प सहित फोन पर भी कई बार धमकियां मिल चुकी है। किंतु किसानों की इस विकराल समस्या से अभी कोई भी राहत न मिलने के चलते उनका गौ संरक्षण को लेकर अपने मिशन में लगातार आगे बढ़ने का प्रयास है। जिससे भविष्य में कोई भी अप्रिय घटना न घटित हो इसके लिए वह पहले से ही तत्पर रहते हुए मिल रही इन धमकियों से शासन व प्रशासन को अवगत कराया है। साथ ही प्रमुख सचिव गृह को पत्र के माध्यम से अपनी समस्या को बताते हुए सुरक्षा की मांग की है।

(फेसबुक पर  Swarnim Times स्वर्णिम टाईम्स लिख कर आप हमारे फेसबुक पेज को सर्च कर लाइक कर सकते हैं।  TWITER  पर फाॅलों करें। वीडियो के लिए  YOUTUBE चैनल को SUBSCRIBE करें)

Check Also

भरेह थाने का देखो कमाल, हिस्ट्रीशीटर को थाने से वइज्जत वरी और साधारण को 4/25 की कार्यवाही मैं भेजा जेल

चकरनगर (इटावा), (डॉ. एस. बी. एस. चौहान) 15जुलाई। थाना भरेह के गांव हरौली बहादुरपुर में …