Breaking News

मासूमों की मौत को लेकर पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने की प्रेसवार्ता, सीएम नीतीश पर लगाये गंभीर आरोप

पटना (संजय कुमार मुनचुन) : पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने मुजफ्फरपुर में इंसेफ्लाइटिस एव लू से हुई मौत को लेकर राज्य सरकार की भूमिका पर सवाल उठाया।

पिछली बार भी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्द्धन आये थे और बच्चों के इलाज को लेकर बड़ी घोषणा की थी, लेकिन हुआ कुछ नही। इस बार भी वही हवा हवाई घोषणा ही अब तक हुई है। इसका खामियाजा मासूम बच्चे भुगत रहे हैं।

नीतीश कुमार पर भी जीतन राम मांझी ने हमला बोला। सरकार गरीबो को लेकर बिल्कुल संवेदनशील नही है। म्यूजियम, सभ्यता द्वार बनाने के लिए सरकार के पास करोड़ो अरबो रुपये है। लेकिन अस्पताल के बेड को बढ़ाने को आधुनिकीकरण के लिए कुछ नही है। ऐसे में सरासर बिहार सरकार की लापरवाही का मामला है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने इस मामले को लेकर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से इस्तीफा मांगा। इस मामले को लेकर जीतन राम मांझी ने कहा कि 26 जून को हम पार्टी का डेलीगेशन बिहार के राज्यपाल से मुलाकात करेगा।

तेजस्वी यादव को लेकर दी सफाई

तेजस्वी यादव को लेकर जीतन राम ने सफाई दी। उनके ऊपर बहुत दबाब है। गर्मी में 200 से अधिक सभाएं करने के कारण थके हुए और बीमार है।

लोकसभा चुनाव के बाद पार्टी के पराजय से वे मानसिक अपसेट हो गए है। उनको सुख दुख सहने के अनुभव नही है। इसलिए उन्होंने कुछ दिनों के लिए अपने को राजनीति से दूर कर लिया है।

Check Also

21 IAS और 87 BAS अफसरों का तबादला, बदले गए 10 डीडीसी और 47 एसडीओ

डेस्क : बिहार में देर रात 21 आईएएस अफसरों का तबादला कर दिया गया। इसमें …