Breaking News

पानी में पनपने वाले घातक लार्वा को खत्म करने के लिए तालाब में डाली गयी गम्बोजिया प्रजाति की मछली

राम किशोर रावत (माल/लखनऊ) :: गांव के बेकार पानी में पनपने वाले लार्वा को एक विशेष प्रजाति की मछली नियंत्रित करेगी । ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता एवं पोषण समिति (वीएच एनसी)को इसकी जिम्मेदारी दी गयी है । जानकारी देते हुए बीडियो भानु प्रताप सिंह ने बताया गांवों में मच्छर जनित रोगों की रोकथाम के लिये विशेष प्रजाति की मछली पानी में डाली जा रही है । गम्बोजिया प्रजाति की मछली मच्छरों के लार्वा को खा जाती है । इसी खूबी को देखते हुये गांवों में बस्ती के अंदर या नजदीक स्थित जलभराव वाले स्थानों पर मछली का बीज डाला गया है । पहली बार हो रहे इस प्रयोग को लेकर सभी गांवों में लोगों में भी उत्सुकता नजर आयी । सहायक विकास अधिकारी पंचायत देवेंद्र प्रताप सिंह ने कहा बेकार पानी गांवों में एकत्रित होता है ।

जिसमें विषैले मच्छरों का लार्वा पैदा हो जाता है । यह मछली लार्वा को खा जाती है इसलिये बस्ती के भीतर जिन स्थानों पर बेकार पानी जाम रहता है वहाँ या मछली डाली गयी है । मछली आपूर्ति कर रहे दीपू कुमार कश्यप ने बताया यह मछली बहुत तेजी से वंश बृद्धि करती है । अगले वर्ष तक सभी गांवो में इसकी पर्याप्त संख्या हो जायेगी । अभी प्रत्येक पंचायत में पांच सौ मछली आपूर्ति की गयी हैं ।

(फेसबुक पर  Swarnim Times स्वर्णिम टाईम्स लिख कर आप हमारे फेसबुक पेज को सर्च कर लाइक कर सकते हैं।  TWITER  पर फाॅलों करें। वीडियो के लिए  YOUTUBE चैनल को SUBSCRIBE करें)

Check Also

भरेह थाने का देखो कमाल, हिस्ट्रीशीटर को थाने से वइज्जत वरी और साधारण को 4/25 की कार्यवाही मैं भेजा जेल

चकरनगर (इटावा), (डॉ. एस. बी. एस. चौहान) 15जुलाई। थाना भरेह के गांव हरौली बहादुरपुर में …