Breaking News

बच्ची की मौत को लेकर ग्रामीणों ने किया सीएचसी का घेराव

परिजनों ने डॉक्टर पर लगाया लापरवाही का आरोप 

सूरज अवस्थी (मोहनलालगंज/लखनऊ) :: प्रदेश सरकार के दावे खोखले साबित हो रहे हैं बीमार बच्ची को  सी एच सी से लेकर ट्रामा तक पिता दौड़ता रहा इलाज न मिलने से उसकी मौत हो गई ।  मोहनलालगंज विकासखंड क्षेत्र गढ़ी उत रावा गांव निवासी अशोक कुमार ने बताया कि मेरी पुत्री को 29 जुलाई को गांव में कुत्ते ने काट लिया था, शाम 4 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोहनलालगंज लेकर पहुंचे  वहां पर इंजेक्शन सुबह लगाने के लिए बताया गया जिसमें रेबीज के 3 इंजेक्शन लगाए गए अंत में 15 अगस्त की रात को अचानक 3 वर्षीय बच्ची की हालत बिगड़ने लगी तो 16 अगस्त की सुबह 5 बजे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अशोक  कुमार अपनी पुत्री को लेकर पहुंचा डॉक्टर ने स्थिति नाजुक देखते हुए सिविल के लिए रिफर कर दिया , सिविल पहुंचते ही

डॉक्टरों ने उसे एक ढक्कन दवा दी और बलरामपुर भेज दिया ,  बलरामपुर में डॉक्टरों ने देखा और उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया ,  इस दौरान बालिका के पिता मोहनलालगंज से लेकर ट्रामा सेंटर तक दौड़ते रहे समय से  इलाज न मिलने के कारण बच्ची की अंतता मौत हो गई ।  इससे ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है कि प्रदेश सरकार स्वास्थ्य की सिर्फ सेवा देने के लिए ढिंढोरा पीटती है इलाज नहीं मिलता इससे नाराज परिजन  सोमवार को सी एच सी प्रशासन से शिकायत दर्ज कराई अशोक के साथ भारतीय किसान यूनियन के किसान नेता राजेश कुमार सहित तमाम ग्रामीण मौके पर मौजूद थे , अधीक्षक मिलिंद वर्धन  ने रेबीज इंजेक्शन लगाने वाले चिकित्सक की जांच कर कार्यवाही का आश्वासन दिया  तब जाकर ग्रामीण शांत हुए  ।

(फेसबुक पर  Swarnim Times स्वर्णिम टाईम्स लिख कर आप हमारे फेसबुक पेज को सर्च कर लाइक कर सकते हैं।  TWITER  पर फाॅलों करें। वीडियो के लिए  YOUTUBE चैनल को SUBSCRIBE करें)

Check Also

कोरोना से बचाव के लिए सीएम योगी की धर्म गुरुओं से अपील, कहीं एकत्रित न होने दें भीड़

राज प्रताप सिंह, लखनऊ ब्यूरो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को धर्म गुरुओं के साथ …