Breaking News

मोदी के नेतृत्व में मंदिर निर्माण का रास्ता साफ : योगी

राज प्रताप सिंह, लखनऊ ब्यूरो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जो कहा वो करके दिखाया है। उन्हीं के मजबूत नेतृत्व में अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण का मार्ग भी प्रशस्त हुआ है। यही नहीं उन्हीं के नेतृत्व में आज भारत, दुनिया की एक ताकत बनकर उभर रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का गठन होने के बाद रविवार को पहली बार अयोध्या पहुंचे। जहां उन्होंने दर्शन नगर के सूर्य कुंड पर आरोग्य मेला का उद्घाटन करने के बाद जनसभा को संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने कश्मीर से अनुछेद 370 को हटाया और तीन तलाक जैसी कुप्रथा को प्रतिबंधित किया। नागरिकता कानून में संशोधन करके दुनिया की पीड़ित मानवता को शरण देने की एक पूरी पारदर्शी व्यवस्था बनाई। मुख्यमंत्री ने आरोग्य मेला की चर्चा करते हुए कहा कि यह कार्यक्रम एक साथ प्रदेश के अंदर 4000 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और वेलनेस सेण्टर के माध्यम से आरोग्यता के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रारंभ किया गया है। उन्होंने कहा कि अगर सभी लोग जागरूक होकर शासन की योजनाओं को गरीबों तक पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध हो जाएं, तो दवा के अभाव में किसी गरीब की मौत नहीं होगी। प्रधानमंत्री ने आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराया है। हर व्यक्ति आयुष्मान कार्ड का गोल्डन कार्ड जरूर बनवा ले। जिन्होंने कार्ड बनवा लिए हैं, उन्हें पांच लाख रुपये तक का स्वास्थ्य बीमा प्रति वर्ष मिल रहा है।

इस कार्यक्रम को अनिवार्य रूप से युद्धस्तर पर बढ़ाया जा रहा है।मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 2025 तक भारत को टीबी, फाईलेरिया तथा तमाम विषाणु जनित बीमारियों से मुक्त करना है। इस कार्यक्रम को भी अपने हाथों में लेना है और इसके लिए यह ‘आरोग्य मेला’ बहुत बड़ी देन है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 1947 से 2016 तक प्रदेश के अंदर केवल 12 मेडिकल कॉलेज थे। 2016 से 2019 के बीच मात्र तीन वर्ष के दौरान हमारी सरकार ने प्रदेश के अंदर 28 मेडिकल कालेज की नींव रखी। सात मेडिकल कॉलेज शुरु कर दिए गए हैं, जिसमें अयोध्या का मेडिकल कॉलेज भी शामिल है। 13 मेडिकल कॉलेज बनाने जा रहे हैं। प्रदेश में जहां मेडिकल कॉलेज नहीं है, वहां पर बनाए जाएंगे। प्रदेश के सभी जनपदों में बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिलेंगी।

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …