Breaking News

काकोरी में गोली लगने से युवक घायल

संदीप जयसवाल:काकोरी/लखनऊ।राजधानी में पुरानी रंजिश के विवाद में गोली चलने से एक युवक मामूली रूप से जख्मी हो गया।सूचना पर पहुंची काकोरी पुलिस ने घायल को आनन-फानन में ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया।घायल को डॉक्टर खतरे से बाहर बता रहे हैं।  काकोरी के उदितखेड़ा गांव में पुनीत यादव व गुड्डू यादव में पुस्तैनी जमीनी विवाद चल रहा है।रविवार की सुबह पुनीत के अनुसार लगभग 8:30 बजे जब वह शौंच के लिए गांव के बाहर गया था तो उसने देखा कि उसके प्लाट पर बनी बाउंड्री को गांव के ही कुछ लोग गिरा रहे हैं।

पुनीत के अनुसार जब वह मौके पहुंचा तो दबंगों ने उस पर फायर झोंक दिया और दबंग भाग निकले जिससे वह मौके पर ही गिर गया।सूचना पाते ही काकोरी पुलिस मौके पर पहुंचकर घायल को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया,जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही हैं। प्रभारी निरीक्षक    ने बताया पुनीत की तहरीर पर जानलेवा हमले का मामला दर्ज किया गया है।पुतिन ने अपने परिवार के ही जयकरण यादव उनके बेटे कोमल यादव व गुड्डू उर्फ रूपेन्द्र यादव सहित बबलू यादव को नामजद किया है।पुलिस का कहना है कि प्रथम दृष्टया जांच में मामला संदिग्ध लग रहा है।दोनों में जमीनी विवाद है 31 जुलाई को दोनों पक्षों पर शांतिभंग की कार्यवाही कर चालान किया गया था।दोनों पक्षों के लोगों 107/116 के तहत पाबंद कराया जा चुका हैं।मामले की गहनता से जांच की जा रही है।वहीं डॉक्टरों का कहना है कि घायल को सटाकर गोली मारी गई है।जबकि पीड़ित का कहना है कि सभी हमलावरों के हाथ में तमंचा था उन लोगों ने देखते ही उस पर गोली चला दी जिससे वह घायल हो गया।

डाक्टरों के अनुसार पुतीन को कमर के ऊपर दाहिनी तरफ गोली छूती हुई निकल गई है।एसपी ग्रामीण विक्रांतवीर ने बताया के पुनीत व उसके भाई एवं चाचा 2014 में नामजद आरोपी बबलू यादव के पिता पुतान यादव की हत्या में जेल जा चुके हैं घटना की गहनता से जांच की जा रही है तथ्यों के आधार पर सही कार्यवाही होगी,किसी भी क़ीमत पर दोषी को बख्शा नहीं जायेगा।पुलिस की मानें तो अब तक की जांच में मामला संदिग्ध पाया गया है जांच की जा रही है जो सही पाया जाएगा उसी के अनुसार कार्यवाही की जाएगी।हालांकि पुलिस ने किसी भी आरोपी को हिरासत में होने की बात से इनकार किया है।वही घटना में नामजद आरोपियों का कहना है कि पुनीत से उनकी पुरानी रंजिश है जिस वजह से उनको फर्जी तरीके से फसाया जा रहा है जिससे वह लोग पुतान यादव हत्याकांड में पुनीत से सुलह समझौता कर लें।ग्रामीणों के अनुसार जिस जमीन को दोनों पक्ष लड़ रहें वह ग्राम समाज की जमीन है।जिस पर दोनों पक्ष अपना-अपना दावा कर रहें हैं।वहीं घटना के सम्बंध में अधिकांश ग्रामीणों का कहना कि जिस समय पुनीत को गोली लगी थी उस समय सभी नामजद आरोपी अपने घर पर जानवरों को चारा लगा रहे थे।

(फेसबुक पर  Swarnim Times स्वर्णिम टाईम्स लिख कर आप हमारे फेसबुक पेज को सर्च कर लाइक कर सकते हैं।  TWITER  पर फाॅलों करें। वीडियो के लिए  YOUTUBE चैनल को SUBSCRIBE करें)

Check Also

भरेह थाने का देखो कमाल, हिस्ट्रीशीटर को थाने से वइज्जत वरी और साधारण को 4/25 की कार्यवाही मैं भेजा जेल

चकरनगर (इटावा), (डॉ. एस. बी. एस. चौहान) 15जुलाई। थाना भरेह के गांव हरौली बहादुरपुर में …