Breaking News

मुख्यमंत्री ने सात दिन प्रमुख सचिव से मांगी जांच रिपोर्ट

राज प्रताप सिंह,लखनऊ ब्यूरो। रामपुर के सांसद व सपा के पूर्व मंत्री रहे आजम खां के जौहर विश्वविद्यालय से सेस वसूली के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव श्रम से पूछा है कि विश्वविद्यालय से 20 करोड़ रुपये की सेस वसूली की राशि को कैसे कम कर दिया गया। इस संबंध में एक सप्ताह में रिपोर्ट देने को कहा गया है।


उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य-सनिर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के नियमों के मुताबिक रामपुर में बनी जौहर यूनीवर्सिटी के भवनों के निर्माण के संबंध में सेस वसूला जाना था। वर्ष 2015 में तत्कालीन सपा सरकार ने विश्वविद्यालय को नोटिस देकर 20 करोड़ रुपये की राशि वसूलने के निर्देश दिए थे।

इस मामले में रामपुर के भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से शिकायत की थी। आरोप हैं कि जिला स्तर पर अधिकारियों ने लीपापोती कर सेस की रकम कम कर दी।
मुख्यमंत्री के विशेष सचिव अमित सिंह ने शिकायती पत्र पर प्रमुख सचिव श्रम को पत्र लिखा है। निर्देश दिए गए हैं कि सात दिन में मामले का परीक्षण कर रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्याल को भेजी जाए।

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …