Breaking News

अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त हुआ संपादक पुत्र किशन दुबे

चकरनगर(इटावा),(डाँ.एस.बी.एस.चौहान)। जौनपुर अपहरणकर्ताओं के चंगुल से एक बार फिर चकमा देकर भागने में सफल हुआ संपादक पुत्र किशन दुबे आजाद कौशांबी के सराय अकिल थाने में मौजूद जौनपुर जनपद से अपहृत 6 ठवीं का छात्र अपहर्ताओं के चंगुल से भाग निकला। शनिवार को उसे एक डंपर में बैठाकर बालू घाट की तरफ ले जाया जा रहा था। रास्ते में किसी तरह डंपर से कूदकर भागा छात्र ग्रामीणों एवं  ठेकेदार बालमुकुंद के जरिये सरायअकिल कोतवाली पुलिस के पास पहुंचा और अपने अपहरण की कहानी बताई। पुलिस ने छात्र के परिजनों को सूचना दे दी है। परिजन उसे लेने के लिए जौनपुर से कौशाम्बी के लिए निकल पड़े हैं। 
 जौनपुर कोतवाली के नईगंज निवासी अनिल दुबे आजाद दैनिक राष्ट्रसाक्षी समाचार पत्र के संपादक हैं। उनका 14 वर्षीय बेटा किशन दुबे शहर के पीडी इंटर कॉलेज में 6 ठवीं का छात्र है। छात्र किशन ने बताया कि 30 नवंबर को वह घर से कुछ सामान खरीदने बाजार की तरफ पैदल जा रहा था, तभी दो लोगों ने नशीला पदार्थ सुंघाकर उसे अगवा कर लिया। इसके बाद बदमाश उसे कहां ले गए, इसकी उसे कोई जानकारी नहीं है। शनिवार शाम चार बजे उसे होश आया तो खुद को उसने एक डंपर में पाया।बताया कि डंपर चालक सरायअकिल के तिल्हापुर मोड़ के पास गाड़ी रोककर मोबाइल पर किसी को उसके बारे में जानकारी दे रहा था। चालक की बात सुनते ही वह डंपर से कूदकर भागते हुए रुसहाई घाट पहुंचा और ग्रामीणों से आपबीती कही। यह भी बताया कि डंपर में तीन और लोग सवार थे। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस छात्र को लेकर थाने आ गई। पुलिस ने फोनकर इसकी खबर किशन के पिता को दी। थानाध्यक्ष विजय विक्रय सिंह ने बताया कि परिजन जौनपुर से निकल पड़े हैं। एसओ के मुताबिक किशन का इससे पहले भी 23 अक्तूबर को अपहरण हुआ था।

 संपादक अनिल दुबे आजाद ने बताया कि 7311151205 जो 112 नंबर डीसीआरबी पुलिस के सिपाही का है इसी नंबर से से छोटे भाई राकेश दुबे के फोन पर सूचना आई कि बच्चा हम लोग लेकर सराय अकिल थाने पर चल रहे हैं आप लोग वही पहुंचे वहीं इससे पूर्व मोबाइल नंबर 9454 9741 56 जो बालमुकुंद नामक व्यक्ति का है उक्त नंबर से बच्चा मिलने की सूचना बालू घाट से दी गई थी उसके बाद 112 नंबर को बच्चे के मिलने की सूचना परिजनों द्वारा दी गई साथ में पुलिस अधीक्षक जौनपुर के नंबर पर उक्त सूचना उपलब्ध कराई गई घर से परिजन आवश्यक कार्य बस संपादक अनिल दुबे आजाद के साथ मुंगरा बादशाहपुर मैं मौजूद थे कि उक्त सूचना पाकर बरामद स्थल की तरफ निकल पड़े इलाहाबाद पहुंचते पहुंचते चौकी इंचार्ज सराय पोख्ता संतोष राय और कोतवाल संजीव मिश्रा से बातचीत के दरमियान यह जानकारी दी गई कि आप मुकदमा वादी हैं इसलिए बेहतर होगा कि हम लोगों के आने के बाद ही बच्चे से मिले और थाने पर जाएं समाचार लिखे जाने तक  कौशांबी जनपद की सीमा में पहुंचकर जनपद जौनपुर के ड्यूटी पर लगाए गए चौकी इंचार्ज सराय पोख्ता का इंतजार परिजन कर रहे हैं ताकि उनके आने के बाद परिजन थाने पर जाकर बच्चे से मिल सके और उन्हें वापस घर के लिए लेकर पुलिस अभिरक्षा में वापस लौट सकें।
 ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन तहसील अध्यक्ष अनामी शरण त्रिपाठी, धर्मेंद्र प्रताप सिंह सेंगर, सुनील यादव, मुकेश यादव “मीडिया” आदि ने इस कार्य के लिए समय का ठीक होना और बाद में पुलिस की मदद सराहनीय बताते हुए संपादक जी को बधाई भी दी है।

Check Also

मुख्यमंत्री योगी बाबा का बड़ा फैसला कन्याओं का जन्मदिन मनाएगी सरकार

सरकारी अस्पतालों में अब बेटियों का जन्मदिन हर्षोल्लास के साथ मनाएगी योगी सरकार सरकारी अस्पताल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *