Breaking News

5वें दिन उपेन्द्र कुशवाहा का टूटा अनशन, महागठबंधन के नेताओं ने पिलाया जूस नीतीश को बताया हठधर्मी

पटना (संजय कुमार मुनचुन) : केन्द्रीय विद्यालय के मसले पर रालोसपा प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा का चल रहा अनशन पांचवें दिन टूट गया। महागठबंधन और वामदल के नेताओं ने शनिवार को एक साथ पीएमसीएच जाकर कुशवाहा को जूस पिलाकर उनका अनशन तुड़वाया। इस अवसर पर सभी नेताओं ने राज्य सरकार पर हठधर्मिता का आरोप लगाते हुए हमला बोला।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि यह अनशन तो ट्रेलर था, पूरी फिल्म अभी बाकी है। श्री कुशवाहा के स्वस्थ होते ही आगे नये और बड़े आंदोलन की तैयारी होगी। पूरा महागठबंधन और वामदल केन्द्रीय विद्यालय खोलने की इस मांग में उपेन्द्र कुशवाहा के साथ है।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री शरद यादव ने भी कहा कि नई सरकार केन्द्रीय विद्यालय खुलवाएगी। कांग्रेस के अखिलेश सिंह और हम के जीतनराम मांझी ने कहा कि अगले चुनाव में इस सरकार को हर हाल में हटाने की साझी रणनीति बनेगी। नेताओं ने श्री कुशवाहा के समर्थन में शुक्रवार से अनशन पर बैठे वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी का भी अनशन तुड़वाया।

इसके पहले सभी नेताओं ने राजद कार्यालय में प्रेस कान्फ्रेंस कर सरकार पर जमकर हमला बोला। साथ ही गिरते स्वास्थ्य के मद्देनजर कुशवाहा से अनशन तोड़ने की अपील की। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि हम चाहते हैं केन्द्रीय विद्यालय खुले, अच्छे अस्पताल खुलें, राज्य को विशेष दर्जा और पैकेज मिले, बेराजगारी दूर हो और विधि व्यवस्था दुरुस्त हो। लेकिन नीतीश सरकार की रूचि इनमें नहीं है। नीतीश कुमार का एजेंडा कुर्सी बचाने का है। राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद ने कहा कि राज्य में स्कूल खुलवाने के लिए अंदोलन और अनशन करना पड़े, इससे बड़ी चिंता की और कोई बात नहीं हो सकती है।

मौके पर वाम दल के अरुण मिश्रा और अवधेश सिंह के अलावा रालोसपा के माधव आनंद, भूदेव चौधरी और राजेश यादव, हम के दानिश रिजवान और कांग्रेस के अजय सिंह टुन्नू भी उपस्थित थे।

Check Also

नीतीश के तीर से कटकर चिराग के बंगले में आए कई जदयू नेता, ली सदस्यता

सौरभ शेखर श्रीवास्तव की रिपोर्ट : लोजपा (चिराग) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह जमुई सांसद चिराग …