Breaking News

बिहार :: बीएड कॉलेज एसोसिएशन की अर्थी लेकर छात्र मुज़फ्फरपुर से पदयात्रा करते पहुंचें पटना

पटना (संजय कुमार मुनचुन) : उच्च न्यायालय , पटना के आदेश की गलत व्याख्या करके बी एड के छात्रों को परेशान कर उनका कैरियर बर्बाद करने का मामला पूरे बिहार के निजी b.Ed कॉलेजों के द्वारा जोरों पर चल रहा है । कई विश्वविद्यालय के छात्र धरना प्रदर्शन ,अनशन और लगातार शिकायतें राज भवन और सरकार तक पहुंचा रहे हैं लेकिन पता नहीं किस वजह से कोई कठोर कार्रवाई राजभवन या शिक्षा विभाग द्वारा उन पर नहीं की जा रही है। विश्वविद्यालय के स्तर से भी मनमानी करने वाले निजी बी एड कॉलेजों की मान्यता रद्द नहीं की जा रही है और ना ही उनके मानकों की जांच की जा रही है । 

उच्च न्यायालय के आदेश में वर्णित किया गया है कि एनसीटीई के मानकों के संपूर्ण पालन के आधार पर b.Ed कोर्स शुल्क की अधिकतम सीमा 1 लाख 50 हजार होगा जब की b.Ed कॉलेज के प्रबंधक छात्रों से बिना मानकों के पालन किए ही 1 लाख 50हजार की मांग कर रहे हैं। इस मामले को लेकर वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय,आरा और बिहार विश्वविद्यालय मुज्जफरपुर के छात्र कई दिनो तक अनशन पर बैठ चुके हैं। मुजफ्फरपुर के छात्रों के साथ वार्ता के बाद विश्वविद्यालय द्वारा कॉलेजों की ऑडिट रिपोर्ट के तहत फीस 1लाख 2हजार निर्धारित की गई लेकिन उसके बाद भी संबद्ध कॉलेजों ने उसे अस्वीकार कर दिया और विश्वविद्यालय द्वारा परीक्षा की तिथि निकालने के बाद भी नियमों के खिलाफ जाकर मनमाने तरीके से हड़ताल पर चले गए और छात्रों का फॉर्म नहीं भरा गया।आज छात्रों का समूह न्याय के लिए महामहिम राज्यपाल से मिलने के लिए पैदल मार्च करते हुए मुजफ्फरपुर से पटना पहुंचे फिर भी उन्हें राज्यपाल महोदय से नहीं मिलने दिया गया और ना ही राज्यपाल के प्रधान सचिव से मिलने दिया गया। किस कारण से उनकी बात अनसुनी कर दी गई और पता नहीं किन कारणों से कार्रवाई नहीं होती है । यह बड़ा गंभीर प्रश्न है। पूर्व में छात्र युवा संघर्ष समिति के प्रतिनिधि मंडल ने भी इस मामले को लेकर राज्यपाल महोदय से मुलाकात की थी जिसके फलस्वरूप राजभवन से सभी विश्वविद्यालयों को संबद्ध निजी बी एड कॉलेजों के मानकों की भौतिक निरीक्षण हेतु पत्र भी जारी किया गया परन्तु विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा अभी तक इस दिशा में कोई प्रयास नहीं किया गया है।

 आप के मीडिया प्रभारी बबलू प्रकाश ने कहा, सरकार की मिलीभगत से बीएड कॉलेज की शुल्क बृद्धि की गई है और लगातार छात्रों का शोषण हो रहा है। उन्होंने कहा, शुल्क बृद्धि को लेकर, आम आदमी पार्टी के सांसद, संजय सिंह ने, छात्रहित को देखते हुए, बिहार के मुख्यमंत्री एवं 27 दिसम्बर 18 महामहिम राजपाल महोदय को पत्र लिखा है। कॉलेज माफियाओं के आगे सरकार बौना साबित हो रहा है।

मौके पर बिहार विश्वविद्यालय छात्राध्यापक संघ के छात्र नेताआशुतोष कुमार,हिमांशु कुमार,पंकज कुमार,खुस्बू कुमारी सहित सैकड़ों छात्र और आप के राज्य मीडिया प्रभारी बबलू प्रकाश और छात्र युवा संघर्ष समिति के छात्र नेता भूपेंद्र कुमार ,मनीष कुमार और अन्य कई कार्यकर्ता मौजूद रहें।

Check Also

बिहार रचेगा इतिहास, विस अध्यक्ष के संचालन में हर जिले में ‘युवा संसद’ का होगा भव्य आयोजन जानें पूरा प्लान…

डेस्क : देश की राजनीति को ईमानदार और कर्मठ युवा नेता कैसे मिलेंगे, इसकी चिंता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *