Breaking News

डाटा इंट्री ऑपरेटर से घुस लेते सिविल सर्जन चढ़े निगरानी के हत्थे

डेस्क : मनचाहे जगह ट्रांसफर के एवज में डाटा इंट्री ऑपरेटर केशव कुमार से 50 हजार रुपये रिश्वत लेते सिविल सर्जन (सीएस) डॉ रवींद्र कुमार को निगरानी की टीम ने गिरफ्तार किया.  

डीएसपी सर्वेश कुमार सिंह के नेतृत्व में निगरानी की टीम ने सुबह 6.30 बजे डॉ कुमार को उनके डुमरा स्थित सरकारी आवास से गिरफ्तार किया. डाटा इंट्री ऑपरेटर केशव कुमार जिले के रून्नीसैदपुर प्रखंड के भरथी गांव है.

निगरानी की गिरफ्त में सिविल सर्जन डॉ रवींद्र कुमार

वहीं, सिविल सर्जन शेखपुरा जिले के केवलबिघा के रहनेवाले हैं और नालंदा में सीएस के पद पर काम कर चुके हैं. 19 अक्तूबर 2019 को सिविल सर्जन ने पांच डाटा इंट्री ऑपरेटरों का विभिन्न सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में ट्रांसफर कर दिया था. इस सूची में केशव का ट्रांसफर रून्नीसैदपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से बैरगनिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कर दिया गया था. 25 अक्तूबर को केशव ने बैरगनिया में अपना योगदान दिया.  

31 अक्तूबर को सिविल सर्जन को आवेदन देकर पुन: रून्नीसैदपुर सीएचसी में प्रतिनियुक्त करने की गुहार लगायी. इस पर सिविल सर्जन ने 60 हजार रिश्वत की मांग की. केशव ने इतनी रकम देने में असमर्थता जतायी तो बात 50 हजार पर बन गयी. इसके बाद ऑपरेटर ने निगरानी से इसकी शिकायत कर दी.

Check Also

12 केंद्रीय विश्वविद्यालयों के कुलपति बदले, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने की घोषणा

डेस्क : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश की 12 सेंट्रल यूनिवर्सिटी के नए कुलपतियों ने …