Breaking News

यूपी में ईद पर बिजली कटौती ने फीका किया त्योहार

लखनऊ (विमलेश तिवारी) : यूपी में ईद पर जबरदस्त बिजली कटौती ने त्योहार का मजा फीका कर दिया। वहीं लोगों को भीषण गर्मी में त्योहार मनाने पड़े। यूपी के पास पर्याप्त बिजली होने के बाद भी पूर्वी यूपी से लेकर पश्चिम के कई जिलों में जबरदस्त कटौती हुई। छुट्टी के दिन होने के बाद भी 20916 मेगावाट से अधिक बिजली सप्लाई हुई।
प्रदेश में बिजली की आपूर्ति, वितरण और डिमांड आदि का ब्यौरा रखने वाली एजेंसी स्टेट लोड डिस्पैच सेंटर

(एसएलडीसी) लखनऊ की रिपोर्ट के मुताबिक बुधवार को डिमांड 20 हजार से ऊपर पहुंच गई थी। 10500 मेगावाट से अधिक बिजली आयात की गई और बाकी की यूपी के बिजली घरों से ली गई। डिमांड और सप्लाई में मात्र 190 मेगावाट का अंतर रहा। जो बहुत मामूली है।
यूपी पॉवर कारपोरेशन के अधिकारियों का कहना है कि प्रदेश की जरूरत के अनुसार पूरी बिजली मुहैया कराई जा रही है। हालांकि जिलों में स्थानीय स्तर पर फाल्ट से समस्याएं हुई हैं। इसकी निगरानी के लिए शक्तिभवन से निर्देश जारी किए गए लेकिन छुट्टी होने के कारण कई जगहों पर फाल्ट ठीक होने में अधिक समय लगा।

नहीं मिली बिजली : राजधानी लखनऊ और प्रदेश के अन्य बड़े शहरों में कटौती पर काबू रखा गया लेकिन छोटे जिले, कस्बे और गांवों में संकट बना रहा। कुछ जिलों में आठ से 10 घंटे तक कटौती रही। पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम कटौती से सबसे अधिक प्रभावित रहा। वहीं दक्षिणांचल के इटावा-मैनपुरी, बुंदेलखंड के कई इलाकों में स्थानीय फाल्ट ने बिजली गुल कर दिया।

पूर्वी उत्तर प्रदेश में मौसम से बिगड़े हालात : पूर्वी उत्तर प्रदेश के कई जिलों में तेज हवा के चलते वितरण लाइनों में दिक्कत आ गई। इससे कई जिलों की बिजली प्रभावित हुई। यही हाल पश्चिमी उत्तर के कुछ जिलों में भी रहा। वहीं गर्मी के कारण छोटे-कस्बों और गांवों तक में डिमांड बहुत अधिक आने भी स्थानीय स्तर पर फाल्ट हुए।
अतिरिक्त तैयारियां कारगर नहीं रहीं
यूपी पॉवर कारपोरेशन के अफसरों ने त्योहार को देखते हुए पहले से तैयारियां की लेकिन यह कारगर साबित नहीं हो सकीं। कटौती ने खूब रुलाया। उपकेंद्रों पर लोगों की शिकायतों को सुनने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों की गैरमौजूदगी ने समस्या को और बढ़ा दिया। हालांकि मुख्यालय में बैठे अफसरों का दावा है कि कुछ जिलों को छोड़ प्रदेश में हालात सामान्य रहे।

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …