सुई से मरीज की मौत पर निजी अस्पताल में तोड़फोड़ व हंगामा, परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का लगाया आरोप

6

डेस्क : यूं तो डॉक्टर को लोग भगवान का दर्जा देते हैं लेकिन डॉक्टर की लापरवाही से जब किसी की जान चली जाती है तो लोगों में काफी आक्रोश देखने को मिलता है। सोमवार को बेगूसराय के एक निजी नर्सिंग होम में इलाज के दौरान एक मासूम की मौत हो गई। परिजनों ने आरोप लगाया है कि डॉक्टर द्वारा सुई लगाने के तुरंत बाद बच्चे ने दम तोड़ दिया। सहायक थाना लोहियानगर इलाके में घटना के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा मचाया और क्लिनिक में तोड़फोड़ कर दी।

Hospital

आक्रोशित परिजनों का कहना है कि आधुनिक दौड़ में डॉ. भगवान नहीं बल्कि हैवान बन चुके हैं। मासूम की जान जाने से उसके परिजनों में काफी रोष व्याप्त है।

Swarnim Times

मृतक की पहचान रिफाइनरी थाना क्षेत्र के महना निवासी अखिलेश कुमार की पुत्री के रूप में की गयी है। पीड़ित परिजनों ने बताया कि तीन-चार दिनों से खांसी सर्दी और बुखार से बच्ची पीड़ित थी जिसके बाद वे डॉक्टर को दिखाने क्लिनिक में आए थे।

Private Hospital

बच्ची की हालात बिगड़ता देख वे बार-बार डॉक्टर से बच्ची के जान बचाने की गुहार लगाने लगे लेकिन डॉक्टर ने उनकी बात को अनसुना कर दिया। जिसके बाद मासूम बच्ची ने दम तोड़ दिया। जैसे ही बच्चे की मौत हुई वैसे ही परिजनों ने क्लीनिक पर पहुंचकर जमकर हंगामा मचाना शुरू कर दिया। इस दौरान क्लीनिक में जमकर तोड़फोड़ की गयी। इस घटना के बाद क्लीनिक में काफी देर तक अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया।

Death of Patient

लोहिया नगर थाने की पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले को किसी तरह शांत कराया और शव को परिजनों के हवाले कर दिया। उन्होंने यह भी कहा कि परिजनों के द्वारा यह आरोप लगाया गया है कि लापरवाही के कारण बच्ची की जान गई है। फिलहाल पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है।

Advertisement