Breaking News

विश्व पर्यावरण दिवस :: पर्यावरण मित्र सम्मेलन आयोजित

लखनऊ (धीरेन्द्र मिश्रा) : प्रकृति एवं अध्यात्म-विज्ञान शोध संस्थान के तत्वाधान मे श्री श्री माँ आन्नद आश्रम मे विश्व पर्यावरण दिवस पर 5 जून को पर्यावरण मित्र सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसमे मुख्य अतिथि डा0 एम0 एल0 बी0 भट्ट(कुलपति,केजीएमयू,लखनऊ),दारा सिंह

चौहान(पर्यावरण मंत्री),नीरज सिंह(युवा नेता,भाजपा),दयाशंकर(प्रदेश उपाध्यक्ष,भाजपा),अनिल दुबे,डा0आर0पी0सिंह(निदेशक उद्यान एवं खाघ प्रसंस्करण, लखनऊ) रहे जिनका पण्डित हरिशंकर मिश्रा ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मान किया। इस कार्यक्रम की शुरूआत मुख्य अतिथि डा0 एम0 एल0 बी0 भट्ट ने दीप प्रज्जवलित कर विधिवत शुरूआत की।

विश्व पर्यावरण दिवस पर आयोजित पर्यावरण मित्र सम्मेलन पर पण्डित हरिशंकर मित्र ने सभी को बताते हुए कहा कि ज्यादा से ज्यादा वृक्ष लगाए जाए जैसे हम सबके पूर्वजो ने लगाए थे तो आज सबको उसका लाभ मिल रहा है ठीक वैसे ही जब हम सब लोग वृक्ष लगाएंगे तो उसका लाभ आने वाली पीढ़ी भी उठा सकेगी। मानव देह की रचना भी पर्यावरण के महत्वपूर्ण घटको से हुई है इसलिए जब हम पर्यावरण को नुकसान पहुचाते है तो उसका असर हमारे

जीवन पर भी पड़ता है इसलिए ज्यादा से ज्यादा वृक्ष लगाकार खुद के साथ आने वाली पीढ़ी को सुरक्षित रखा जा सकता है।कार्यक्रम के समापन से पहले पर्यावरण के क्षेत्र मे विशिष्ट योगदान देने वाले आशोक पांडे,राजकुमार,पंकज गुप्ता सहित अशोक तिवारी को पर्यावरण मित्र सम्मान से सम्मानित किया गया इस अवसर पर आश्रम से जुड़े सहयोगी साथियो के साथ साथ सैकड़ो लोग मौजूद रहे।

डा0 एम0एल0 बी0 भट्ट ने सभी को सम्बोधित करते हुए बताया कि आज विश्व पर्यावरण दिवस पर पर्यावरण मित्र सम्मेलन का आयोजन बहुत ही प्रशंसनीय है आज के इस गिरते जलवायू स्तर को देखते हुए हम सबको पर्यावरण के प्रति बहुत ही गम्भीर हो जाना चाहिए क्योकि इन सभी पेड़ पौधो का असर सीधे हमारे जीवन स्तर पर पड़ता है इस लिए सभी को विश्व पर्यावरण दिवस पर संकल्पित होते हुए ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाने चाहिए और उनकी देखभाल करनी चाहिए इसके साथ ही यह भी बताया कि सरकार पाॅलीथीन को रोकने के लिए तमाम प्रयास कर रही है लेकिन फिर भी इसपर बहुत बड़ा असर नही पड़ रहा है। जब तक समाज सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर नही चलेगा तब तक इस पर सफलता पूरी तरह से मिलना सम्भव नही है जबकि इन पाॅलीथीनो की वजह से बहुत सी बीमारिया बढ़ रही है पर्यावरण दिवस पर सभी लोगो को यह भी संकल्प लेना चाहिए कि सरकार के इन कामो मे ज्यादा से ज्यादा सहयोग कर पाॅलीथीन का प्रयोग ना किया जाए।

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …