Breaking News

कन्या सम्मान :: ‘चुप्पी तोड़ो-मुँह न मोड़ो’ अभियान की हुई शुरुआत

लखनऊ (रामकिशोर रावत) : नवरात्रि के अवसर पर बाल चौपाल के संयोजन में फ्लाइंग बर्ड्स फाउण्डेशन और यूथ अगेनस्ट रेप के संयुक्त सहयोग में कन्याओं को साथ होने होने वाले अपराधों के प्रति जन सामान्य को जागरूक और इन वारदातों पर रोकथाम के लिए लोगों को सजग करने और एकजुट करने के उददेश्य से “चुप्पी तोड़ो-मुंह न मोड़ो” अभियान की शुरुआत जीपीओ पार्क लखनऊ से की गयी।

अभियान के प्रमुख संयोजक और बाल चौपाल संरक्षक अनूप मिश्रा अपूर्व ने लोगों को शपथ दिलाकर अभियान की शुरुआत की । कार्यक्रम का संचालन अभिषेक मिश्रा अभी, तनिष्क तिवारी ने किया।

फ्लाइंग बर्डस फाउंडेशन के अभिषेक मिश्रा अभी के निर्देशन में नुक्कड़ नाटक ‘आखिर क्यो ?’ के जरिये लोगों के सामने बच्चियों और महिलाओं के साथ घटित होने वाले अपराधों से जुड़े कई सवाल खड़े किये गये । आये दिन होने वाली एसिक अटैक , छेड़छाड़, बलात्कार , हत्या जैसी वारदांतों पर आखिर कब अंकुश लगेगा। नाटक में अनूप मिश्रा अपूर्व , अभिषेक मिश्रा अभी , रितेश गुप्ता प्रिया मिश्रा, राजन यादव, पूनम यादव, संजय तिवारी व अमन परिहार ने बेहतरीन अभिनय किया से संस्था के सदस्यों ने गीत के माध्यम से भी लोगों को संदेश दिया।

इस अवसर पर यूथ अगेन्स्ट रेप के राज्य प्रतिनिधि तनिष्क तिवारी के नेतृत्व में अर्पित, प्रतिभा. वरुन, अक्षत हर्ष पाण्डेय, अवन्तिका, सैफ व प्रीति ने पोस्टर इमेज एवम हस्ताक्षर अभियान के जरिए लोगों का संदेश दिया। अभियान के प्रमुख संयोजक अनूप मिश्रा ” अपूर्व ” ने कहा कि यह अभियान तभी सफल होगा जब नवरात्रि पर माँ दुर्गा देवी के रूप में सम्मानित की जाने वाली हर बेटी सुरक्षित होगी । आज के बदले समय में जिस तरह मासूम बच्चियों के साथ अपराध बढ़ते जा रहे हैं उनको देखकर और सुनकर लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रह है। इस मुद्दे के प्रति हम सभी को संवेदनशील होकर एकजुट होना होगा ताकि कोई दुराचारी किसी कन्या, लड़की और महिला के साथ दुराचार करने की हिम्मत ना जुटा सके। यह अभियान शहर में तीन दिन तक विभिन्न क्षेत्रों में आयोजित किया जायेगा।

बाल चौपाल, फ्लाइंग बर्ड्स फाउण्डेशन, यूथ अगेन्स्ट रेप के तत्वावधान में आने वाले माह में ग्रामीण क्षेत्रों में , स्लम एरिया और मोहल्ले में बालिकाओं एवं महिलाओं को निःशुल्क आत्मरक्षा सेल्फ डिफेन्स की ट्रेनिंग देने के लिए तत्पर रहेगी।

Check Also

Anand

गरीब बच्चों में शिक्षा के जरिये बदलाव ला रहे आनंद ने विदेश की 24 प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी में चयनित होकर बनाया कीर्तिमान

आनंद कृष्ण मिश्रा को मिली एक करोड़ 20 लाख एक हजार अमेरिकी डॉलर की छात्रवृत्ति …