Breaking News

पत्रकार के बेटे संग मारपीट व लूट के मामले में पांच दिन बाद भी आरोपी पुलिस के गिरफ्त से दुर,

सरोजनीनगर/लखनऊ (मुकेश कुमार) : लखनऊ पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़ा करता है मामला है कि नामजद मुकदमों में भी पुलिस आरोपी को कस्टडी में लेकर जांच करने के बजाए उल्टे जांच के नाम पर पीड़ित को ही उलझाती रहती है वहीं दुसरी ओर बेखौफ आरोपी पीड़ित पर मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाने के लिए तरह-तरह से

मानसिक तौर पर प्रताड़ित करता रहता है।ऐसा ही ताजा मामला सरोजनीनगर पुलिस का प्रकाश में आया है कि पांच दिन पूर्व पत्रकार के बेटे संग मारपीट कर लूटपाट करने वाले आरोपी मुकदमा दर्ज होने के बाद भी पुलिस के गिरफ्त से दुर है और लगातार पीड़ित के परिवारीजनों पर मुकदमा वापस लेने के लिए सोसल मीडिया,वाट्सअप द्वारा लगातार दबाव बना रहे है और मुकदमा वापस न लेने की दशा में पूरे परिवार को अंजाम भुगत लेने की धमकी दे रहा है जबकि पीड़ित ने आरोपियों में एक की शिनाख्त करते हुए नामजद मुकदमा दर्ज कराया है इसके बावजूद भी पुलिस पांच दिन बीत जाने के बाद भी आरोपी को हिरासत में नहीं ले पाई है। वहीं सरोजनीनगर थाना प्रभारी प्रमेन्द्र कुमार के मुताबिक पीड़ित के पिता की नामजद शिकायत पर मारपीट व लूट की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है जिसकी विवेचना किया जा रहा है नामजद आरोपी के मोबाइल लोकेशन का सीडीआर की

जांच की जा रही है जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होगा। बताते चले कि बीते पांच दिन पूर्व 29 मई की शाम कुशाल पुत्र देवराज भारती निवासी बदाली खेड़ा रूस्तम विहार को कुछ युवकों ने बहाने से गाड़ी पर बैठा एयरपोर्ट के निकट सुनशान स्थल पर ले जाकर जमकर मारपीट कर पास से स्मार्ट मोबाइल फोन व हजारों रूपये नगदी लूटकर गड्ढ़े में अचेत अवस्था में फेंक कर फरार हो गए थे जिस पर पीड़ित ने पुत्र के बताये नुसार एक आरोपी को नामजद करते हुए छ-सात अज्ञात पर मारपीट व लूटपाट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था और आरोपी अभी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं।

Check Also

प्राकृतिक छटा पर जेसीबी मशीन का कहर

चकरनगर/इटावा। ऊंचे टीले और कंटीली झाड़ियों को संजोए रखने वाला चकरनगर बीहड़ क्षेत्र धीरे-धीरे प्राकृतिक …